UP: DNA टेस्‍ट बताएगा कब्र में सूरज है या रमजान… कौशांबी में दफनाए गए शव पर हिंदू परिवार का दावा

Edited By Mamta Yadav, Updated: 04 Jul, 2022 10:34 AM

up dna test will tell whether there is suraj in the grave or ramzan

पड़ोसी फतेहपुर जिले के रहने वाले एक हिंदू परिवार ने यहां एक मुस्लिम परिवार द्वारा दफनाये गये मृतक के शव को अपने बेटे का होने का दावा किया है। जिलाधिकारी के आदेश पर रविवार को शव को कब्र से डीएनए परीक्षण के लिए बाहर निकाला गया।

कौशांबी: पड़ोसी फतेहपुर जिले के रहने वाले एक हिंदू परिवार ने यहां एक मुस्लिम परिवार द्वारा दफनाये गये मृतक के शव को अपने बेटे का होने का दावा किया है। जिलाधिकारी के आदेश पर रविवार को शव को कब्र से डीएनए परीक्षण के लिए बाहर निकाला गया।

जानकारी के अनुसार सैनी थाना क्षेत्र के दिल्ली हावड़ा रेल लाइन स्थित बनपुकरा गांव के सामने 21 जून को एक 20 वर्षीय युवक का शव मिला था, जिसे सैनी थाना क्षेत्र के बिजलीपुर गांव निवासी शब्बीर ने अपने बेटे रमजान के रूप में शिनाख्त कर उसे अपने गांव के ही कब्र में दफना दिया था। पड़ोसी जिले फतेहपुर के धाता थाना क्षेत्र के धाता निवासी संतराज ने 28 जून को जिलाधिकारी कौशांबी को प्रार्थना पत्र देकर कब्र में दफनाए गए शव को अपने बेटे सूरज का होने का दावा किया।

उन्होंने मामले की जांच करने का निवेदन किया। जिलाधिकारी कौशांबी सुजीत कुमार ने इस मामले में उप जिलाधिकारी सिराथू तथा क्षेत्राधिकारी सिराथू को शव को कब्र से बाहर निकलवाकर तीन चिकित्सकों के पैनल द्वारा जांच करवाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी के निर्देश के बाद उप जिलाधिकारी सिराथू तथा क्षेत्राधिकारी सिराथू की मौजूदगी में कब्र में दफनाए गए शव को बाहर निकलवाया गया। वहां पर मौजूद चिकित्सकों के पैनल ने शव के डीएनए जांच के लिए नमूने एकत्र कर लिये। इसके साथ ही शब्बीर तथा संतराज के भी खून के सैंपल लिए गए हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि डीएनए जांच के बाद ही यह निर्णय हो पाएगा कि शव रमजान का है या सूरज का। थानाध्यक्ष सैनी तेज बहादुर सिंह ने बताया कि शव से नमूने एकत्र करने के बाद उसे वापस दफना दिया गया है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!