रामचरितमानस पर स्वामी प्रसाद का फिर विवादित बयान, बोले- सुंदरकांड कराना 97% हिंदू को आहत करना

Edited By Tamanna Bhardwaj,Updated: 16 Mar, 2023 02:15 PM

swami prasad s controversial statement again on ramcharit

समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के विवादित बयानों पर लगाम नहीं लग रही है। रामचरितमानस के बाद अब मौर्य ने सुंदरकांड पर विवादित बयान दिया है। उन्होंने योगी सरकार के सुंदर पा...

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के विवादित बयानों पर लगाम नहीं लग रही है। रामचरितमानस के बाद अब मौर्य ने सुंदरकांड पर विवादित बयान दिया है। उन्होंने योगी सरकार के सुंदर पाठ कराने के निर्णय पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है। मौर्य ने लिखा कि ढोल, गवार, शुद्र, पशु, नारी। सकल ताड़ना के अधिकारी। उसी सुंदरकांड का हिस्सा है जिसका सरकार ने पाठ कराने का निर्णय लिया है यानी सरकार का यह निर्णय महिलाओं व शूद्र समाज को प्रताड़ित व अपमानित करने वाले 3% लोगों का बढ़ावा देने एवं 97% हिंदू समाज के भावनाओं को आहत करने वाला है।

 

बता दें कि इससे पहले भी मौर्य ने रामचरितमानस को लेकर मौजूदा योगी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में जब रामचरितमानस का पाठ लोगों ने स्वत ही बंद कर दिया तो सरकार अपने खर्चे पर ये पाठ करा रही है। ये देश सबका है। स्वामी ने कहा कि विभिन्न धर्मों, जातियों के लोगों ने आजादी दिलाने में शहादत दी। ऐसे में धर्म विशेष को बढ़ावा देकर सरकार संविधान का उल्लंघन कर रही है। वे सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। सरकार भी सभी धर्मों को बढ़ावा दे। 
PunjabKesari
गौरतलब है कि स्वामी प्रसाद ने इससे पहले कहा था कि रामचरितमानस की कुछ चौपाइयों पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि इन चौपाइयों में आपत्तिजनक अंश, जिसमें महिलाओं, आदिवासियों, दलितों व पिछड़ों को सामाजिक, धार्मिक स्तर पर अपमानित होना पड़ता है। जिसके बाद मौर्य हिन्दू संगठनों, कई नेताओं और साधू संतों के निशाना पर आ गए थे। इतना ही नहीं कई हिन्दू संगठनों की तरफ से उनकी गर्दन काटने पर इनाम भी रखा गया।

Related Story

Trending Topics

India

97/2

12.2

Ireland

96/10

16.0

India win by 8 wickets

RR 7.95
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!