पाकिस्तान पर अखिलेश की टिप्पणी पर भड़के साधु-संत, बोले- ‘यह बयान उनकी पराजय का सबसे बड़ा कारण बनेगा’

Edited By Mamta Yadav, Updated: 26 Jan, 2022 06:33 PM

sadhus saints furious over akhilesh s remarks on pakistan

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के पाकिस्तान को बड़ा दुश्मन ना मानने वाले बयान पर जहां एक तरफ सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। तो वहीं अखिलेश यादव के बयान को लेकर साधु संतो में भी दो फाड़ नजर आ रहा है। कुछ साधु-संत अखिलेश के बयान को...

प्रयागराज: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के पाकिस्तान को बड़ा दुश्मन ना मानने वाले बयान पर जहां एक तरफ सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। तो वहीं अखिलेश यादव के बयान को लेकर साधु संतो में भी दो फाड़ नजर आ रहा है। कुछ साधु-संत अखिलेश के बयान को लेकर नाराजगी जता रहे हैं तो कुछ का उनके समर्थन में है और कहना है कि भारत का सबसे बड़ा दुश्मन चीन है क्योंकि चीन धर्मनिरपेक्ष है।

PunjabKesari
संगम नगरी प्रयागराज में लगे माघ मेले में पहुंचे अयोध्या राम जन्मभूमि के संत रामगोपाल दास महाराज जी का कहना है कि अगर अखिलेश के बयान को समझा जाए तो उनका अर्थ है कि पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन चीन है जो बिल्कुल सही है। चीन पाकिस्तान को इस्तेमाल करता है जिसकी वजह से पाकिस्तान को गलत समझा जाता है। पाकिस्तान आज के समय खुद ही बदहाल स्थिति में है ऐसे में भारत को अपने पड़ोसी देश जो आर्थिक और हर रूप से तंगी हालत में है उसकी मदद करनी चाहिए और चीन के इस चाल को समझना चाहिए। क्योंकि चीन के शातिर दिमाग की वजह से ही पाकिस्तान गलत करने पर मजबूर होता है। अगर भारत और पाकिस्तान एक हो जाए तो कई मुद्दे भी हल होंगे और दुनिया में भारत की और मजबूत स्थिति होगी।

वहीं दूसरी तरफ माघ मेले में अमेठी से आए रुद्राक्ष बाबा यानी शिव योगी मौनी बाबा ने अखिलेश यादव के इस बयान की कड़ी निंदा की है। मौनी बाबा ने कहा है कि अखिलेश यादव का यह बयान बेहद हास्यास्पद है। यह बयान उनकी पराजय का सबसे बड़ा कारण बनेगा। इतना ही नहीं संतों ने उनके इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि अखिलेश यादव का यह बयान पहली बार नहीं है, बल्कि इसके पहले भी उनका पाकिस्तान प्रेम दिख चुका है। संतो ने अखिलेश यादव को नसीहत दी है कि वह पाकिस्तान में एक घर खरीद लें। वहीं पर रहे, य़ह उनके लिए बेहतर रहेगा।

पिछले दिनों जिन्ना को आजादी का नायक बताने वाले बयान पर भी संतों ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि उन्हें जिन्ना की मूर्ति अपने घर में बनाकर रख लेनी चाहिए। और जिन्ना की आरती करें। संगम नगरी माघ मेले में पहुंचे शिव योगी मोनी महाराज ने कहा है कि अखिलेश के इसी बयानों की वजह से उन्हें मुल्ला मुलायम का पुत्र कहा जाता है। ऐसे में उनका यह बयान आने वाले दिनों में उनकी हार का एक सबसे बड़ी वजह भी बनेगा और संत समाज ऐसे बयान को कतई भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। मौनी महाराज ने कहा कि उन्होंने यह बयान देकर मुस्लिम वोटों की तुष्टिकरण करने की कोशिश की है। लेकिन उनका यह मकसद कभी भी कामयाब नहीं हो पाएगा।

गौरतलब है कि सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने एक बयान में कहा है कि पाकिस्तान से भारत का बड़ा दुश्मन नहीं है, बल्कि चीन सबसे बड़ा दुश्मन है। जिसके बाद उनके इस बयान की तीखी आलोचना हुई। वहीं अब संतों में भी अखिलेश यादव के बयान को लेकर अलग अलग प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। हालांकि चुनावी मौसम में अखिलेश यादव का यह बयान आने वाले चुनाव में उनको राहत देता है या फिर मुसीबत है यह तो प्रदेश की जनता तय करेगी।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!