दिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर इटावा में फिर टूटी रेल पटरी, टला बड़ा हादसा

  • दिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर इटावा में फिर टूटी रेल पटरी, टला बड़ा हादसा
You Are Here
दिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर इटावा में फिर टूटी रेल पटरी, टला बड़ा हादसादिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर इटावा में फिर टूटी रेल पटरी, टला बड़ा हादसादिल्ली हावड़ा रेलमार्ग पर इटावा में फिर टूटी रेल पटरी, टला बड़ा हादसा

इटावा: देश के अति व्यस्ततम एवं महत्वपूर्ण दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग पर एक बार फिर से उत्तर प्रदेश के इटावा में रेल पटरी टूटने से रेल अधिकारियों में हड़कंप मचा है। इटावा रेलवे स्टेशन के अधीक्षक आर के त्रिपाठी ने बताया कि सुबह करीब 5 बजे सराय भूपत और जसवंत नगर स्टेशन के बीच रेल पटरी टूटने की सूचना मिली। सूचना के बाद अप लाइन पर रेल यातायात बंद कर दिया गया। सबसे खास बात यह है कि यह पटरी नहर पुल के बीचों बीच में टूटी हुई मिली। वह तो कीमैन की निगाह समय रहते उस पर पड़ गई अन्यथा कोई बड़ा हादसा हो सकता था।

उन्होंने बताया कि इस कारण कानपुर से दिल्ली जा रही शताब्दी एक्सप्रेस के अलावा सम्पूर्ण क्रांति जैसी अहम रेल गाड़ियों को जहां की तहां खड़ा कर लिया गया। दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग पर सराय भूपत जसवंत नगर स्टेशन के बीच पोल संख्या 1166 का 13 और 15 के बीच अप लाइन पर रेल पटरी टूट जाने के कारण कई एक्सप्रेस गाड़ियों को धीमीगति से गुजारा गया जबकि भरथना रेलवे स्टेशन पर 2393 संपर्क क्रांति एक्सप्रेस खड़ी रखी रही। रेल पटरी टूटने की खबर मिलने के बाद रेलवे के निर्माण विंग के अफसरों के अलावा आरपीएफ पोस्ट के अफसर मौके पर पहुंचे और टूटी रेल पटरी की मरम्मत कर ट्रेनों का आवागमन शुरु कराया गया।

गौरतलब है कि इसी साल 2 फरवरी को इटावा में सराय भूपत स्टेशन के पास 9 इंच की पटरी टूट गई जिससे दिल्ली-हावड़ा लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही पूरी तरह से ठप हो गई थी। इटावा में यह पहली दफा हुआ वाकया नहीं है इससे पहले भी वर्ष 2010 में डाउन लाइन की करीब 60 से अधिक बार रेल पटरियां टूटी थी। उसके बाद रेल विभाग ने रेल पटरियों को बदल दिया था फिर भी रेल पटरियों के टूटने का वाकया नहीं थमा।



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!