VIDEO: मौनी अमावस्या पर हजारों श्रद्धालुओं ने गंगा में किया स्नान, निकाली गई भव्य शोभायात्रा

Edited By Anil Kapoor, Updated: 21 Jan, 2023 01:12 PM

#Farrukhabad #MauniAmawasya #Ganga

देश के सबसे बड़े धार्मिक मेले माघ मेले के तीसरे स्नान पर्व मौनी अमावस्या के मौके पर गंगा- यमुना और अदृश्य सरस्वती की त्रिवेणी में आस्था की डुबकी लगाने के लिए श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा है… तस्वीरों में देखिए कैसे श्रद्धालुओं का सैलाब दिखाई दे रहा है।


बता दें कि कडकडाती ठंड और हल्के कोहरे के बावजूद देश-विदेश से आए श्रद्धालुओं में मौन रहकर आस्था की डुबकी लगाने की होड़ सी मची हुई है.... ग्रहों और नक्षत्रों के खास संयोग की वजह से इस बार की मौनी अमावस्या का महत्व कई गुना ज्यादा बढ़ गया है... लिहाज़ा संगम पर इतनी भीड़ उमड़ पड़ी है.... भीड इतनी ज्यादा है कि पूरे संगम में पैर रखने तक की जगह नहीं है... प्रशासन का दावा है कि शाम तक 2 करोड़ से ज्यादा श्रद्धालु त्रिवेणी की धारा में आस्था की डुबकी लगाकर मोक्ष की कामना करेंगे...

 
वहीं भारी भीड़ की वजह से मेले में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं... संगम के सभी 17 स्नान घाटों और प्रमुख जगहों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम है... वहीं इसबार श्रद्धालुओं के लिए प्रशासन ने हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा भी की।


बता दें कि बीती रात बारिश भी हुई थी.... लेकिन उसके बावजूद भी आस्था बारिश ठंड और कोहरे पर भारी पड़ती हुई नजर आई... श्रद्धालुओं का कारवां खास मुहूर्त की परवाह किए बिना रात से ही त्रिवेणी की धारा में डुबकी लगाकर अपने जन्म-जन्म के पाप धो लेने के लिए उतावला नजर आए... देश- विदेश से आए श्रद्धालुओं का कहना है कि आज का दिन बेहद खास है... लिहाजा हर कोई अपने पाप को धोना चाहता है।


बता दें कि इस मौके पर श्रद्धालु मौन रहकर आस्था की डुबकी लगाने के साथ ही गंगा मैया की आराधना करते हुए तिल और जौ का दान भी कर रहे हैं... मान्यता है कि मौनी अमावस्या पर तीर्थराज प्रयाग के संगम पर सभी तैंतीस करोड़ देवी-देवता भी अदृश्य रूप में मौजूद रहते हैं... लिहाजा यहां देश के कोने-कोने से साधु-संत, साधक और आम श्रद्धालु आए हुए हैं। 

Related Story

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!