सपा से गठबंधन हो या विलय, सत्ता परिवर्तन के लिए सब मंजूर: शिवपाल यादव

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 08 Nov, 2021 12:07 PM

यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कुछ ही समय शेष रह गया है। ऐसे में तमाम राजनीतिक पार्टियां जीत निश्चित करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही हैं। इसी कड़ी में कानपुर पहुंचे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के प्रमुख शिवपाल यादव ने साफ किया कि गठबंधन से...

कानपुर: यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कुछ ही समय शेष रह गया है। ऐसे में तमाम राजनीतिक पार्टियां जीत निश्चित करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही हैं। इसी कड़ी में कानपुर पहुंचे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के प्रमुख शिवपाल यादव ने साफ किया कि गठबंधन से भी आगे बढ़कर सपा में पार्टी का विलय करने से भी उन्हें परहेज नहीं। उन्होंने कहा कि सत्ता परिवर्तन बहुत जरूरी है। इसके लिए सपा से गठबंधन करना पड़े या फिर चाहे विलय, उन्हें मंजूर है। 

शिवपाल ने कहा कि किसान परेशान हैं। युवा रोजगार की तलाश में भटक रहे हैं। सरकार से जुड़े कुछ उद्योग घराने ही पनप रहे। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का श्रेय भाजपा ले रही है, लेकिन पहले की सरकार के समय में ही 60 फीसद जमीन इसके निर्माण के लिए ले ली गई थी। कोरोना में जहां बेड व ऑक्सीजन नहीं थे, वहीं अब डेंगू से भी सरकार लड़ नहीं पा रही। उन्होंने सरकार में आने पर हर परिवार में एक बेटे व बेटी को सरकारी नौकरी देने की बात कही। बोले, जिस परिवार को नौकरी न दे सके तो उसे 5 लाख रुपये बजट से दिए जाएंगे।

बता दें कि शिवपाल ने अकबरपुर से रविवार को सामाजिक परिवर्तन यात्रा के चौथे चरण का शुभारंभ किया। शिवपाल ने कहा कि इस यात्रा का समापन 30 नवंबर को अयोध्या में रामलला के दर्शन कर करेंगे। अकबरपुर से निकली यात्रा कानपुर, उन्नाव होते हुए लखनऊ पहुंची। जगह-जगह कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। प्रसपा प्रमुख के साथ उनके बेटे और राष्ट्रीय महासचिव आदित्य यादव, प्रदेश अध्यक्ष सुंदरलाल लोधी भी थे। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!