CM योगी से मुलाकात कर घिरे रामगोपाल यादव, बहू अपर्णा यादव बोला जुबानी हमला, कहा...

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 04 Aug, 2022 10:46 AM

ram gopal yadav surrounded by meeting cm yogi daughter in law

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हुई मुलाकात पर यूपी की सियासत तेज है। इस पर शिवपाल यादव के बाद मुलायम सिंह यादव की ब...

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हुई मुलाकात पर यूपी की सियासत तेज है। इस पर शिवपाल यादव के बाद मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने जुबानी हमला बोला है।

दरअसल, अपर्णा ने अपने चचेरे ससुर शिवपाल सिंह यादव के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने रामगोपाल के आरोपों पर ही सवाल खड़े किए थे।  प्रो. रामगोपाल यादव ने योगी सरकार पर पक्षपातपूर्ण कार्रवाई का आरोप लगाया, जिसको अपर्णा यादव ने पूरी तरह से नकार दिया है। अपर्णा यादव ने कहा कि चाचा शिवपाल ने कुछ बिंदु उठाते हुए जो पत्र जारी किया, उससे कई लोग सहमत हैं।

उन्होंने कहा कि योगी सरकार में कानून का राज है और न्याय व्यवस्था सबके लिए समान रूप से काम कर रही है। जाति-धर्म के आधार पर किसी का उत्पीड़न नहीं किया जा रहा। प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के कारण ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलडोजर बाबा के नाम से जाना जाने लगा है। उनके बुलडोजर माडल की तारीफ देश-दुनिया में हो रही है।

उन्होंने कहा कि आदिवासी वर्ग से आने वालीं द्रौपदी मुर्मु को राष्ट्रपति पद के लिए चुना जाना भाजपा की भेदभावरहित नीति का प्रत्यक्ष उदाहरण है। पिछड़ों और अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के प्रो. रामगोपाल के आरोप को उन्होंने गलत बताया। रामगोपाल की मुख्यमंत्री से भेंट पर बोलीं कि मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी अपनी बात रखने के लिए हर कोई स्वतंत्र है। अन्य लोगों की तरह मुख्यमंत्री ने उनकी बात को भी सुना। रामगोपाल के पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें केवल दो लोगों का नाम शामिल किया गया। सपा की ओर से जिस प्रकार से सरकार पर अल्पसंख्यकों के खिलाफ कार्रवाई का माहौल बनाया जा रहा है। उसका सच अब सामने आ गया है।

गौरतलब है कि सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर एटा के अलीगंज से पूर्व विधायक रहे रामेश्वर सिंह यादव और उनके परिवार के खिलाफ लगातार हो रही कार्रवाई का मामला उठाया था। उनके मुलाकात के बाद सबसे पहले प्रसपा मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने यह मामला उठाया था।


 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!