चंद्रशेखर बोले- मैंने अखिलेश को बड़ा भाई माना, वो मुझे छोटा भाई मानें तो बन सकती है बात

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 17 Jan, 2022 02:21 PM

chandrashekhar said  i considered akhilesh as elder brother if

भीम आर्मी प्रमुख एवं आज़ाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद ने सपा से गठबंधन की फिर से उम्मीद जगाई है। चंद्रशेखर आज़ाद ने कहा है, "अखिलेश को मैंने बड़ा भाई मान लिया है, यदि वो मुझे छोटा भाई नहीं मानेंगे तो मैं अपना निर्णय लूंगा। अभी मैं उनके...

लखनऊ: भीम आर्मी प्रमुख एवं आज़ाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद ने सपा से गठबंधन की फिर से उम्मीद जगाई है। चंद्रशेखर आज़ाद ने कहा है, "अखिलेश को मैंने बड़ा भाई मान लिया है, यदि वो मुझे छोटा भाई नहीं मानेंगे तो मैं अपना निर्णय लूंगा। अभी मैं उनके संदेश का इंतज़ार कर रहा हूं।"

एक निजी चैनल से बातचीत करते हुए चंद्रशेखर आज़ाद ने कहा, "मैंने ये कह दिया है कि ये लड़ाई अकेले चंद्रशेखर की नहीं है। ये दलितों, वंचितों, शोषितों, मुसलमानों, बौद्धों, अल्पसंख्यकों हर वर्ग के अधिकार की लड़ाई है। यदि अखिलेश ये कहेंगे कि यूपी में बीजेपी को रोकने के लिए मुझे चंद्रशेखर की ज़रूरत है तो मैं बिना एक सीट लिए भी उनके साथ जाने को तैयार हूं।"

दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी की तरफ से भी गठबंधन की संभावनाओं को बरकरार रखते हुए कहा गया है कि अभी चंद्रशेखर से गठबंधन के रास्ते बंद नहीं हुए हैं। पार्टी प्रवक्ता मनोज पांडे ने कहा, "राजनीति में कभी संभावनाएं ख़त्म नहीं होती हैं ना ही स्थायी रूप से कोई दरवाज़ा बंद होता है। राजनीति में बातचीत चलती रहती है।"

बता दें कि चंद्रशेखर ने शनिवार को एक प्रेसवार्ता करके आरोप लगाया था कि अखिलेश यादव ने 'दलितों को सम्मान' नहीं दिया और आज़ाद समाज पार्टी का गठबंधन नहीं हुआ। इस पर अखिलेश ने एक प्रेसवार्ता कर कहा, ''चंद्रशेखर से बात पक्की हो गई थी। हम उन्हें गठबंधन में दो सीटें देने के लिए तैयार थे, लेकिन फिर उनके पास किसी का फ़ोन आया और उन्होंने कहा कि वो चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं और उठकर चले गए।''
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!