इंसानियत शर्मसार! बेटे के शव को कंधों पर उठा कर 25 km पैदल चला लाचार पिता, अस्पताल ने नहीं दी एंबुलेंस सेवा

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 03 Aug, 2022 04:01 PM

shame on humanity the helpless father

उत्तर प्रदेश में प्रयागराज में मानवता उस समय शर्मसार हो गई, जब एक पिता को अपने 14 वर्षीय बेटे के शव को 25 किलोमीटर तक अपने कंधों पर उठा कर ले जाना पड़ा। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मृतक के पिता के पास पैसे न होने के कारण अस्पताल...

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश में प्रयागराज में मानवता उस समय शर्मसार हो गई, जब एक पिता को अपने 14 वर्षीय बेटे के शव को 25 किलोमीटर तक अपने कंधों पर उठा कर ले जाना पड़ा। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मृतक के पिता के पास पैसे न होने के कारण अस्पताल में मृतक के शव को घर छोड़ने के लिए एंबुलेंस व्यवस्था के लिए मना कर दिया था। इससे स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही भी सामने आती है।

बता दें कि यह मामला संगम नगरी के एसआरएन अस्पताल का है। यहा पर करछना थाना क्षेत्र के डीहा गांव के एक निवासी ने अपने 14 साल के बेटे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया था। लेकिन इलाज के दौरान उनके बेटे की मौत हो गई। जिसके बाद लाचार पिता ने अपने बेटे के शव को घर पहुंचे के लिए एंबुलेंस की सहायता मांगी। लेकिन अस्पताल ने मदद करने से मना कर दिया। क्योंकि लाचार पिता के पास पैसे नहीं थे। जिसके बाद पिता को मजबूर होकर अपने बेटे के शव को अपने कंधों पर उठा कर ले जाना पड़ा। उन्हें अस्पताल से लेकर अपने गांव 25 किलोमीटर तक पैदल ही जाना पड़ा।

इस घटना से समझा जा सकता है कि लोगों की इंसानियत किस कदर खत्म होती जा रही है। जब अपने कंधे पर बेटे का शव लादकर लाचार पिता घर जा रहा था, तो रास्ते में लोग रुक रुक कर उनकी इस लाचारी को देख रहे थे, लेकिन किसी ने भी उनकी मदद करने की कोशिश नहीं की। ना ही उन्हें अस्पताल प्रशासन की तरफ से भी किसी प्रकार का कोई सहयोग नहीं मिला।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!