UP Politcs News: राहुल ने 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' का समय घटाया, पश्चिमांचल के जिलों में नहीं जाएगी यात्रा

Edited By Imran,Updated: 12 Feb, 2024 06:12 PM

rahul reduced the time of  bharat jodo nyay yatra

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की अगुवाई में निकाली जा रही ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा' का उत्तर प्रदेश में समय घटा दिया गया है और इसके लिये बोर्ड परीक्षाओं का हवाला दिया गया है। अब यह यात्रा 11 दिन के बजाय छह दिन ही उत्तर प्रदेश में रहेगी। कांग्रेस के एक...

लखनऊ: कांग्रेस नेता राहुल गांधी की अगुवाई में निकाली जा रही ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा' का उत्तर प्रदेश में समय घटा दिया गया है और इसके लिये बोर्ड परीक्षाओं का हवाला दिया गया है। अब यह यात्रा 11 दिन के बजाय छह दिन ही उत्तर प्रदेश में रहेगी। कांग्रेस के एक नेता ने इसकी जानकारी दी। 

यह निर्णय उन संकेतों के बाद लिया गया है कि समाजवादी पार्टी की सहयोगी और जयंत सिंह चौधरी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा से हाथ मिला सकती है। हालांकि, कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने सोमवार को यहां जारी एक बयान में बताया कि राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश की बोर्ड परीक्षाओं और छात्र-छात्राओं के हितों को देखते हुए राज्य में अपनी 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' का समय घटा दिया है। उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अजय राय ने 'पीटीआई-भाषा' को बताया कि उत्‍तर प्रदेश में पूरी यात्रा के दौरान राहुल गांधी के साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी वाद्रा भी रहेंगी। राय ने पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में प्रभावशाली माने जाने वाले राष्‍ट्रीय लोकदल (रालोद) की कथित रूप से बढ़ती नजदीकियों को देखते हुए यात्रा के राज्‍य के पश्चिमी हिस्‍सों में जाने का कार्यक्रम रद्द किये जाने सम्‍बन्‍धी अटकलों को गलत बताते हुए कहा, ''रालोद के मामले से इसका कोई लेना-देना नहीं है। यात्रा के रूट और अवधि में बदलाव सिर्फ उप्र बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए किया गया है।'' भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा की वेबसाइट पर दी गयी 

सूचना के मुताबिक यात्रा को पहले लखनऊ से पश्चिमी जिला बरेली पहुंचना था। उसके बाद उसे अलीगढ़ और आगरा होते हुए राजस्‍थान कूच करना था। कांग्रेस प्रवक्‍ता अंशु अवस्‍थी ने बताया कि उत्तर प्रदेश में पहले यह यात्रा 16 फरवरी से 26 फरवरी तक होनी थी लेकिन आगामी 22 फरवरी को शुरू हो रही उत्तर प्रदेश बोर्ड की परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए अब यह 21 फरवरी तक ही इस राज्य में रहेगी। उन्होंने कहा, "संवेदनशीलता की मिसाल पेश करते हुए राहुल गांधी ने कई मौकों पर जनहित को प्राथमिकता पर रखा। वह इससे पहले भी कोरोना काल में लोगों की परवाह करते हुए बंगाल में अपनी रैलियां निरस्त कर चुके हैं।" अवस्थी ने बताया कि 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' आगामी 16 फरवरी को वाराणसी से उत्तर प्रदेश में प्रवेश करेगी और भदोही, प्रयागराज तथा प्रतापगढ़ के रास्ते 19 फरवरी को अमेठी पहुंचेगी। राहुल अमेठी लोकसभा क्षेत्र के गौरीगंज में जनसभा को संबोधित करेंगें। उन्होंने बताया कि यात्रा 20 फरवरी को रायबरेली और लखनऊ पंहुचेगी। लखनऊ में रात्रि विश्राम होगा। अगले दिन यह यात्रा उन्नाव पहुंचेगी और उन्नाव शहर एवं शुक्लागंज होते हुए कानपुर में प्रवेश करेगी। कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया कि यात्रा कानपुर से हमीरपुर होते हुए झांसी पहुंचकर उसी दिन मध्यप्रदेश में दाखिल हो जाएगी।

यह पूछे जाने पर कि समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव यात्रा में कब शामिल होंगे "सपा प्रमुख अखिलेश यादव के 20 फरवरी को रायबरेली जिले में भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होने और एक रोड शो में भाग लेने की संभावना है।" छह फरवरी को यादव को यात्रा में शामिल होने का निमंत्रण मिला। यादव ने कहा था कि वह या तो अमेठी या रायबरेली में यात्रा में शामिल होंगे। सपा ने एक बयान में कहा, "अखिलेश यादव को 16 फरवरी को उप्र में प्रवेश करने वाली राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होने के लिए (कांग्रेस अध्यक्ष) मल्लिकार्जुन खरगे का निमंत्रण मिला है। यादव ने अमेठी या रायबरेली में यात्रा में शामिल होने की सहमति दे दी है।" यादव ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि यात्रा राज्य में प्रवेश करते समय सपा की 'पीडीए' (पिछड़ा, दलित, अल्पसंख्यक) रणनीति में शामिल होगी और "सामाजिक न्याय और आपसी सद्भाव" के लिए अपने आंदोलन को आगे बढ़ाएगी। 

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!