Magh Mela 2022: देश के सबसे बड़े धार्मिक मेले को लेकर रोडवेज की खास तैयारी, श्रद्धालुओं के लिए चलेंगी 2800 से अधिक बसें

Edited By Ramkesh, Updated: 05 Jan, 2022 04:40 PM

magh mela 2022 special preparation of roadways for the country s

दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक माघ मेले की शुरुआत संगम तट पर 14 जनवरी 2022 से हो रही है। ऐसे में प्रशासन समेत अन्य विभाग तैयारियों में जुट गया है। इसी क्रम में श्रद्धालुओं को बेहतर

प्रयागराजः दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक माघ मेले की शुरुआत संगम तट पर 14 जनवरी 2022 से हो रही है। ऐसे में प्रशासन समेत अन्य विभाग तैयारियों में जुट गया है। इसी क्रम में श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा देने के लिए रोडवेज विभाग ने पूरे माघ मेले में हर रोज़ 1800 बसों के संचालन का फैसला किया है। साथ ही मौनी अमावस्या के दिन 2800 से 3 हज़ार बसों का संचालन किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। कोविड काल को देखते हुए श्रद्धालुओं को किसी तरह की समस्या ना हो इसके लिए इस बार भी भारी संख्या में बसों का संचालन किया जा रहा है। 
PunjabKesari
श्रद्धालुओं को दिखानी होगी आरटी पीसीआर रिपोर्ट 
एक बार फिर से संगम तट 14 जनवरी से गुलजार होता नजर आएगा। हालांकि सरकार ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि जो भी श्रद्धालु माघ मेले में आएगा उनको अपनी आरटी पीसीआर रिपोर्ट दिखानी होगी। रिपोर्ट 48 घंटे पहले तक की ही मान्य होगी। रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही मेला क्षेत्र में एंट्री दी जाएगी। बता दें कि माघ मेले की शुरुआत मकर संक्रांति पर्व के साथ हो रही है। माघ मेले के सभी 6 स्नान पर्व पर लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। प्रशासन ने सबसे ज्यादा भीड़ मौनी अमावस्या पर्व पर जुटने का अनुमान लगाया है। मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को समस्या न हो इसके लिए खास तैयारी की है। रोडवेज ने मेला अवधि में हर दिन 1800 से ज्यादा बसें चलाने की तैयारी की है।
PunjabKesari

रोडवेज ने की खास तैयारी
माघ मेले के मौनी अमावस्या के दिन 2800 बसें, बसंत और मकर संक्रांति के दिन 2 हज़ार से अधिक बसे, जबकि सामान्य मेले के दिन 1800 बसों का संचालन का फैसला लिया है। इसके लिए रोडवेज मुख्यालय ने क्षेत्रवार बसों का आवंटन भी कर दिया है। प्रयागराज रोडवेज के आरएम टीके बिसेन के मुताबिक, इस बार भी पिछले वर्ष से ज्यादा तैयारियां की जा रही हैं। 
PunjabKesari
आरएमटी बेसिन ने कहा- कोविड गाइडलाइन का होगा पालन
रोडवेज विभाग के आरएमटी बेसिन ने बताया कि इस बार माघ के मेले में खासतौर पर कोविड गाइडलाइन का पालन भी कराया जाएगा। श्रद्धालुओं को यात्रा से पहले डिपो में बसों को सैनिटाइज किया जाएगा और यात्रियों को बस पर चढ़ने से पहले हाथों को और उनके बैगों को भी सैनिटाइज किया जाएगा। ऐसे में अन्य यात्रियों को संक्रमण ना बढ़े इसी को देखते हुए रोडवेज प्रशासन ने कोविड काल पर पड़ने वाले माघ मेले में इस तरह योजना बनाया गया है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!