एक ही महिला से था संबंधः नाराज बड़े भाई ने छोटे को उतारा मौत के घाट

Edited By Ajay kumar, Updated: 28 Jul, 2022 06:30 PM

brother turned out to be brother s killer

कहावत है कि जर, जोरू और जमीन भाई-भाई को दुश्मन बना देती है। जिसका ताजा उदाहरण उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर से सामने आया है। यहां जोरू और जमीन के लिए भाई ने ही भाई का कत्ल कर दिया। हत्यारे भाई ने पुलिस को गुमराह करके दो नामजद के खिलाफ मामला दर्ज करा...

अंबेडकरनगरः कहावत है कि जर, जोरू और जमीन भाई-भाई को दुश्मन बना देती है। जिसका ताजा उदाहरण उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर से सामने आया है। यहां जोरू और जमीन के लिए भाई ने ही भाई का कत्ल कर दिया। हत्यारे भाई ने पुलिस को गुमराह करके दो नामजद के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया लेकिन पुलिस की विधि ने सबकुछ साफ कर दिया।

जमीनी विवाद और एक ही महिला से संबंध की वजह से बने दुश्मन
पुलिसिया जांच में हत्या की वजह भाई से जमीन का विवाद और एक ही महिला से दोनों भाइयों का संबंध का होना सामने आया है। एक सप्ताह पूर्व गला काटकर हत्या करने के बाद शव को गांव के बाहर फेंक दिया गया था। पुलिस को गुमराह करने के लिए हत्यारों ने दो लोगों के विरुद्ध नामजद तहरीर देकर मुकदमा भी दर्ज करा दिया था। मुकदमे के आधार पर पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार भी कर लिया था। लेकिन नामजद मुकदमा दर्ज होने के बाद भी जब पुलिस ने इलेक्ट्रानिक और वैज्ञानिक विधि से जांच की तो पूरा मामला खुल गया।

क्या है पूरा मामला
मामला अंबेडकरनगर जिले के हंसवर थाना क्षेत्र के हर संभार गांव के पास का है। एक सप्ताह पूर्व एक युवक का खून से लथपथ शव मिला था। शव की शिनाख्त संदीप यादव निवासी नरकटा वैरागीपुर के रूप में हुई थी। मृतक के बड़े भाई दिलीप यादव ने दो लोगों के विरुद्ध नामजद तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करा दिया था। पुलिस ने दो दिन बाद एक नामजद आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन पुलिस की जांच में आरोपियों का तार मृतक से जुड़ता नहीं मिला। हत्या की उलझती थ्योरी को देख पुलिस ने सर्विलांस और वैज्ञानिक विधि का सहारा लिया तो मामला चौंकाने वाला सामने आया।

मृतक का बड़ा भाई निकला मास्टर माइंड
पुलिसिया जांच में मुकदमा दर्ज कराने वाला मृतक का बड़ा भाई ही घटना के पीछे का मास्टर माइंड निकला। आनन फानन में पुलिस ने आरोपी भाई को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की तो भाई ने घटना को स्वीकार कर लिया। पुलिस की पूछताछ में आरोपी भाई ने बताया कि उसका छोटे भाई संदीप से जमीन को लेकर विवाद था और साथ ही एक महिला से दोनों के संबंध को लेकर भी झगड़ा था।

इसी को लेकर उसने हत्या का प्लान बनाया और इसके बाद उसने अपने दो साथियों को पैसे का लालच देकर प्लान में शामिल किया। 19/20 जुलाई की रात को संदीप को बुलाकर हर सम्भार स्कूल के पास लेकर गया और वहीं पर अपने साथियों के साथ मिलकर चाकू से गला काटकर हत्या कर दी और शव वहीं पर फेंक कर सभी घर चले आए। सुबह जब हत्या की सूचना फैली तो हत्यारा भाई दिलीप भी घटना स्थल पर पहुंचा और दिलीप ने पुलिस को गुमराह करने के लिए दो लोगों के विरुद्ध नामजद मुकदमा दर्ज करा दिया। नामजद अभियुक्तों में एक से हत्यारे दिलीप का विवाद चल रहा था वही से झगड़ा हुआ था। पुलिस अधीक्षक ने बताया की इलेक्ट्रानिक और वैज्ञानिक विधि से जांच के बाद पूरा मामला सामने आया।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!