भीम आर्मी प्रमुख की योगी को चुनौतीः 100 करोड़ तो दूर 1 लाख भी मिल जाए तो राजनीति छोड़ दूंगा, वर्ना..

Edited By Ajay kumar, Updated: 09 Oct, 2020 06:12 PM

hathras funding case bhim army chief challenged yogi adityanath

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से संबंध और 100 करोड़ की फंडिग के लग रहे आरोपों पर भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Chandrasekhar Azad) ने बड़ा बयान दिया है।

लखनऊ: पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से संबंध और 100 करोड़ की फंडिग के लग रहे आरोपों पर भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Chandrasekhar Azad) ने बड़ा बयान दिया है। चंद्रशेखर ने योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को चुनौती दी है कि मुख्यमंत्री मेरे ऊपर कोई भी जांच करवा लें, 100 करोड़ तो दूर की बात यदि मेरे पास एक लाख रुपये भी मिल जाये तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।’’

चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैं योगी आदित्यनाथ जी को चैलेंज करता हूँ कि कोई भी जांच करवा लें 100 करोड़ तो दूर की बात यदि मेरे पास एक लाख रुपये भी मिल जाये तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा वरना आप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दीजिये। मेरा जीवन मेरे समाज को समर्पित है मेरा खर्च मेरा समाज उठाता है।’’ 

PunjabKesari

चंद्रशेखर आजाद ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, "यूपी में न्याय की आवाज उठाना अंतरास्ट्रीय साज़िश कहलाता है. इससे पता चलता है दलितों के न्याय मांगने से योगी सरकार कितना डरती है उनकी नजर में दलितों की ज़िंदगी सस्ती है. यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि हाथरस के अपराधी योगी जी के जाति के है उनको बचाने के लिये हम पर आरोप लगा रहे है। "

PunjabKesari

गौरतलब है कि हाथरस कांड में भीम आर्मी और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के बीच साठगांठ की खबरें सामने आई हैं। पुलिस और एसआईटी को फंडिंग मामले में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और भीम आर्मी के लिंक मिले हैं। यह जानकारी के बाद पुलिस और एसआईटी ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है। पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि सफदरजंग अस्पताल से लेकर पीड़िता के गांव तक भीम आर्मी (Bhim Army) के कार्यकर्ता मौजूद थे। ये कार्यकर्ता अपने को भीम आर्मी का न बताकर आम आदमी बता रहे थे. ऐसी सूचना है कि अब ईडी (ED) इस मामले में भीम आर्मी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से पूछताछ कर सकती है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!