CM योगी का निर्देश- शिवरात्रि में लाखों शिव भक्तों की सुख सुविधा का बंदोबस्त करे वाराणसी प्रशासन

Edited By Mamta Yadav, Updated: 02 Feb, 2022 07:03 PM

varanasi administration should make arrangements of devotees during shivratri

कोरोना की तीसरी लहर पर जल्द ही पूरी तरह काबू पाने का भरोसा जताते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी जिला प्रशासन को महाशिवरात्रि की सभी तैयारियां समय से पूरा करने के निर्देश दिये हैं।

लखनऊ: कोरोना की तीसरी लहर पर जल्द ही पूरी तरह काबू पाने का भरोसा जताते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी जिला प्रशासन को महाशिवरात्रि की सभी तैयारियां समय से पूरा करने के निर्देश दिये हैं।       

कोविड प्रबंधन के लिये टीम-09 की बैठक में उन्होंने बुधवार को कहा कि शिवरात्रि पर वाराणसी में लोग उत्साह और उमंग के साथ बाबा विश्वनाथ के दर्शन के लिए पहुचेंगे। कोविड सम्बन्धी एहतियात को ध्यान में रखते हुये लाखों श्रद्धालु वाराणसी पहुचेंगे। ऐसे में जिला प्रशासन सभी की सुरक्षा-सुविधा का पूरा ध्यान रखे। महाशिवरात्रि को लेकर जिला प्रशासन समय से सभी तैयारियां पूरी कर ले। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश ने शत प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। आज प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक उम्र का हर नागरिक कोविड टीके की पहली खुराक का कवच प्राप्त कर चुका है। यह एक बड़ी उपलब्धि है। सभी स्वास्थ्यकर्मी, निगरानी समिति के सदस्य, जिला प्रशासन के अधिकारी और वह सभी जिन्होंने स्वेच्छा से अपना टीकाकरण कराया, बधाई के पात्र हैं।      

योगी ने कहा कि प्रदेश में अब तक 26 करोड़ 32 लाख से अधिक कोविड टीके का सुरक्षा कवच नागरिकों को प्रदान किया जा चुका है। 70 प्रतिशत से अधिक वयस्क टीके की दोनों डोज ले चुके हैं। मंगलवार तक 15-17 आयु वर्ग के लगभग 70 प्रतिशत किशोरों ने टीका कवर प्राप्त कर लिया है और 28 फरवरी तक के लक्ष्य के सापेक्ष पात्र 64.08 फीसदी से अधिक लोगों को प्री-कॉशन डोज भी मिल चुकी है। अब किशोर वर्ग को टीके की दूसरी डोज देने का समय भी आ गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोविड तीसरी लहर नियंत्रण में है। औसतन 02 लाख से ढाई लाख टेस्ट हर दिन किए जा रहे हैं और पॉजिटिविटी दर में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। 17 जनवरी के एक लाख से अधिक एक्टिव केस के सापेक्ष आज 15 दिनों में 50 प्रतिशत की गिरावट हो चुकी है।

वर्तमान में 41795 एक्टिव केस हैं। साफ है कि बहुत कम संख्या में लोगों को अस्पताल की जरूरत पड़ रही है। यह संक्रमण वायरल फीवर की तरह है। इसलिये इससे डरने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन सभी एहतियात अवश्य बरते जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 24 घंटों में दो लाख 30 हजार 856 कोरोना टेस्ट किए गए, जिसमें 5052 नए कोरोना पॉजिविट पाए गए। इसी अवधि में 10398 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए। यह अच्छे संकेत हैं। कोरोना की हार तय है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!