चंदौली में दर्दनाक हादसा: मिट्टी के टीले में दबकर पिता पुत्र समेत 3 की मौत

Edited By Ramkesh, Updated: 02 Nov, 2021 07:25 PM

3 killed including father and son by being buried in an earthen mound

जिले में धनतेरस के दिन आज दो परिवारो की खुशियां मातम में बदल गई । जब मिट्टी लेने पहाड़ी नाले के किनारे गए 3 लोग मिट्टी में दबकर काल के गाल में समा गए । मौके पर ही 3 की मौत हो गई । जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है । यह लोग दीपावली को लेकर घर में...

चंदौली: जिले में धनतेरस के दिन आज दो परिवारो की खुशियां मातम में बदल गई । जब मिट्टी लेने पहाड़ी नाले के किनारे गए 3 लोग मिट्टी में दबकर काल के गाल में समा गए । मौके पर ही 3 की मौत हो गई । जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है । यह लोग दीपावली को लेकर घर में लिपाई पुताई के लिए चिकनी मिट्टी लेने पहाड़ी नाले के तलहटी में गए थे । जहां यह दुखद हादसा हो गया । मामले की जानकारी होते ही मौके पर पुलिस अधीक्षक चंदौली दल बल के साथ पहुंचे और राहत बचाव कार्य में जुट गए । इस दौरान जेसीबी से मलबा हटाया गया । जिसमें एक को गंभीर अवस्था में इलाज हेतु वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया । मृतकों में दो लोग पिता पुत्र बताये गए है ।

दरअसल, नौगढ़ थाना क्षेत्र के उदितपुर सुर्रा गांव के पास पहाड़ी नाले की तलहटी में गांव के ही शिवकुमार और पड़ोसी जनपद सोनभद्र के बहुअरा गांव निवासी दूधनाथ विश्वकर्मा अपने दो बेटों रितेश विश्वकर्मा और आशीष विश्वकर्मा के साथ चिकनी मिट्टी लेने गए हुए थे। इस दौरान तलहटी में यह लोग मिट्टी की खुदाई कर रहे थे की तभी अचानक ऊपर से मिट्टी का टीला उनके ऊपर आ गिरा और सभी चारों लोग मिट्टी के मलबे में दब गए । दबे लोगो की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग मौके पर दौड़े और पुलिस को घटना की सूचना देने के साथ ही राहत बचाव कार्य में जुट गई । इस दौरान सूचना पाकर नौगढ़ पुलिस भी मौके पर पहुंची । घटना की जानकारी होते ही पुलिस अधीक्षक चंदौली अंकुर अग्रवाल चंदौली से तत्काल घटनास्थल के लिए रवाना हो गए । इस दौरान पुलिस और ग्रामीणों की मदद से मलबे को हटाया गया । जिसमें शिव कुमार उम्र 42 वर्ष निवासी उदितपूर सुर्रा थाना नौगढ़ और दूधनाथ विश्वकर्मा उम्र 48 वर्ष निवासी बहुअरा थाना रॉबर्ट्सगंज जनपद सोनभद्र के शव को निकाला गया ।

उच्चाधिकारियों के निर्देश पर तत्काल जेसीबी मंगा कर मलबा हटाया गया । जिसमें 7 वर्षीय रितेश विश्वकर्मा जो कि मृतक दूधनाथ का पुत्र था उसके शव को भी निकाला गया ।बजबकि मृतक दूधनाथ विश्वकर्मा के दूसरे बेटे 10 वर्षीय आशीष विश्वकर्मा को गंभीर अवस्था में मलबे से निकाला गया और इलाज हेतु प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। इस दौरान मौके पर पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल भी पहुंच गए और रात बचाव का जायजा लिया । मौके से सभी चारों लोगों को मलबे से निकाल लिया गया है।  जिनमे 3 की मौत हो गई । जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना से इलाके में कोहराम मच गया। धनतेरस के दिन हुए इस दुखद घटना से उदितपुर सुर्रा और बहुअरा गांव में मातम पसरा हुआ है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!