पहले आजमगढ़ की पहचान आतंक के गढ़ की बना दी गई थी: योगी आदित्यनाथ

Edited By Tamanna Bhardwaj,Updated: 19 May, 2024 03:49 PM

yogi adityanath said earlier ram devotees used to be shot

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को पूर्ववर्ती सरकारों से मौजूदा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की तुलना करते हुए कहा कि पिछली सरकारों के दौरान रामभक्तों पर गोलियां चलती थीं, मगर आ...

आजमगढ़/जौनपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को पूर्ववर्ती सरकारों से मौजूदा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की तुलना करते हुए कहा कि पिछली सरकारों के दौरान रामभक्तों पर गोलियां चलती थीं, मगर आज अयोध्या में राम भक्तों की आवभगत होती है। योगी ने रविवार को मेहनगर में आजमगढ़ लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रत्याशी दिनेश लाल 'निरहुआ' और जौनपुर में भाजपा उम्मीदवार कृपाशंकर सिंह के समर्थन में आयोजित अलग-अलग चुनावी जनसभाओं को संबोधित किया। दिनेश लाल भोजपुरी फिल्मों के अभिनेता हैं।       

उन्होंने कहा, “पहले आजमगढ़ की पहचान आतंक के गढ़ की बना दी गई थी, देश में कहीं भी आतंकी धमाके होते थे तो आजमगढ़ का नाम आता था, मगर बीते 10 साल में कहीं कोई आतंकी घटना नहीं हुई। आज तो पटाखा भी जोर से फट जाए तो पाकिस्तान सफाई देने लगता है।” मुख्यमंत्री ने कहा, “हमें आजमगढ़ को अभी बहुत कुछ देना है, इसे एक औद्योगिक सिटी बनाना है। यह फिल्म सिटी का केंद्र बनेगा जहां से ढेर सारे ‘निरहुआ' और आम्रपाली दुबे (अभिनेत्री) जैसे कलाकार निकलेंगे।” उन्होंने सपा पर निशाना साधते हुए कहा, “वो लोग यहां पिकनिक मनाने आ रहे हैं और चुनाव बाद घूमने के लिए ब्रिटेन चले जाएंगे, क्योंकि वो बड़े लोग हैं।” योगी ने मतदाताओं से अपील की कि आपको अपने बीच का जनप्रतिनिधि चुनना होगा। 

'दो साल में निरहुआ ने आजमगढ़ के लिए जितना कार्य किया'
मुख्यमंत्री ने वर्तमान सांसद और लोकसभा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' की तरीफ करते हुए कहा कि दो साल में निरहुआ ने आजमगढ़ के लिए जितना कार्य किया है, उतना काम कोई भी जनप्रतिनिधि नहीं कर सकता। योगी ने कहा कि छठे चरण में आपको देश में सरकार बनाने के लिए अपना प्रतिनिधि चुनकर भेजना है। चार चरणों के चुनावी रुझान और विपक्ष में मची खलबली तथा बौखलाहट उनकी हार को स्पष्ट प्रदर्शित करती है। योगी ने कहा कि आप देश में कहीं भी चले जाइए, समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता को हर व्यक्ति शक की निगाह से देखता है और लोग मानते हैं कि ये शरीफ तो नहीं होगा, जरूर कोई गुंडा बदमाश होगा। उन्होंने कहा कि यही वजह है कि सपा के समर्थक की तलाशी शुरू हो जाती है, लोग समझते हैं कि यह कुछ गड़बड़ करने आया होगा। उन्होंने कहा कि आज आजमगढ़ के लोगों को शक की निगाहों से नहीं देखा जाता और पहचान का संकट खत्म हो चुका है। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने देश की तकदीर और तस्वीर को बदल दिया है। मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा, “इस चुनाव में आपको सपा की जमानत जब्त करने का काम करना है। मोदी जी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने के लिए दिनेश लाल ‘निरहुआ' का आजमगढ़ से जीतना जरूरी है।” 

जौनपुर से भाजपा प्रत्याशी कृपाशंकर सिंह के पक्ष में नेशनल इंटरमीडिएट कॉलेज, पट्टी नरेंद्रपुर, शाहगंज में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि ''सपा व कांग्रेस के रूप में रावण का जिन्न आज भी मौजूद है।'' उन्‍होंने कहा, ''इनके कारनामे रावण जैसे हैं। कांग्रेस ने कहा था कि राम हुए ही नहीं। इनके बुद्धिदाता कहते हैं कि राम मंदिर भारत में नहीं बनना चाहिए। सपा ने रामभक्तों पर गोली चलवाई। अब इनके महासचिव (प्रोफेसर राम गोपाल यादव) कहते हैं कि राम मंदिर बेकार बना है।'' योगी ने कहा कि इन पर जब प्रभु राम की कृपा नहीं हो रही तो यह ऐसा ही कहेंगे। उन्होंने कहा कि होगा वही, जो रामलला चाहेंगे और रामलला अपने भक्त मोदी को तीसरी बार सत्ता सौंपने का निर्णय ले चुके हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ''भय बिन होई न प्रीति। पाकिस्तान की बोली बदल गई है। उसे पता है कि यह मोदी का भारत है। घर में घुसकर मारता है।'' मुगल काल का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि ‘औरंगजेब' मुगल सल्तनत का सबसे क्रूर शासक था जिसने अपने भाई की हत्या की और पिता को कैद कर लिया। 

सपा-कांग्रेस के अंदर औरंगजेब की आत्मा प्रवेश कर गई- योगी
उन्होंने कहा कि लोग मानते हैं कि सपा-कांग्रेस के अंदर औरंगजेब की आत्मा प्रवेश कर गई है। हालांकि, उन्होंने यह भी दावा किया कि औरंगजेब की आत्मा दफन की जा चुकी है भाजपा उसे फिर से जीवित नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि सपा-कांग्रेस का ‘इंडी' गठबंधन के रूप में एकजुट होना खतरे की घंटी का संकेत है। आजमगढ़ और जौनपुर में छठे चरण में 25 मई को मतदान होगा। आजमगढ़ में निरहुआ के खिलाफ सपा ने पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के चचेरे भाई धर्मेंद्र यादव को उम्मीदवार बनाया है। यादव को 2022 के उपचुनाव में निरहुआ ने पराजित किया था। जौनपुर में भाजपा के कृपाशंकर सिंह के मुकाबले विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया' से बाबू सिंह कुशवाहा मैदान में हैं। यहां बसपा के मौजूदा सांसद श्‍याम सिंह यादव फिर बसपा के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। 

Related Story

Trending Topics

India

97/2

12.2

Ireland

96/10

16.0

India win by 8 wickets

RR 7.95
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!