प्रयागराज मर्डर केस: योगी सरकार ने पीड़ित परिवार को 16 लाख रुपए की आर्थिक मदद का किया ऐलान

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 27 Nov, 2021 11:36 AM

prayagraj murder case yogi government announced financial

यूपी के प्रयागराज में दलित परिवार के 4 लोगों की हत्या के मामले में योगी सरकार ने 16 लाख 50 हजार रुपए का मुआवजे का ऐलान किया है। वहीं इस मामले में पुलिस ने नामजद 11 आरोपियों में से 8 लोगों को हिरासत में ले लिया है। जबकि नामजद दो अभियुक्तों...

प्रयागराज: यूपी के प्रयागराज में दलित परिवार के 4 लोगों की हत्या के मामले में योगी सरकार ने 16 लाख 50 हजार रुपए का मुआवजे का ऐलान किया है। वहीं इस मामले में पुलिस ने नामजद 11 आरोपियों में से 8 लोगों को हिरासत में ले लिया है। जबकि नामजद दो अभियुक्तों की पुलिस तलाश कर रही है, जिनकी लोकेशन मुंबई में पाई गई है।

शासन की ओर से जिलाधिकारी ने 16.5 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा कर दी है। मृतक के परिजनों की सभी मांगों को पूरा करते हुए परिवार की सुरक्षा के लिए मौके पर पिकेट लगा दिया गया है। डीईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के मुताबिक पीड़ित परिवार ने शस्त्र लाइसेंस की मांग की है। शस्त्र लाइसेंस के लिए अप्लाई करने पर जल्द ही उसमें कार्यवाही कर उसे दिलाने का काम किया जाएगा। 

डीईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के मुताबिक पोस्टमार्टम के बाद शवों का अंतिम संस्कार करा दिया गया है। त्रिपाठी ने दावा करते हुए कहा कि मौके पर पूरी तरह से शांति व्यवस्था कायम है और पुलिस प्रशासन मामले को लेकर गंभीर है। उन्होंने कहा है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। 

जानिए पूरा मामला?
गौरतलब है कि मंगलवार को प्रयागराज के फाफामऊ के गोहरी गांव में एक दलित परिवार के 4 लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई। मृतकों में 50 साल एक फूलचंद (50), 45 वर्षीय पत्नी मीनू, 10 साल का बेटा शिवऔर 17 वर्षीय बेटी शामी हैं। सभी शव घर के अंदर ही मिले हैं। पुलिस ने सामूहिक हत्याकांड मामले में हत्या, दुष्कर्म, पाक्सो एक्ट और एससी-एसटी एक्ट में दर्ज किया है. साथ ही पुलिस ने 17 संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Kolkata Knight Riders

Lucknow Super Giants

Match will be start at 18 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!