गिट्टी चोरी मामले में लगे आरोपो का राकेश सचान ने किया खंडन, कहा- मामला कोर्ट में विचाराधीन

Edited By Ramkesh, Updated: 06 Aug, 2022 04:43 PM

msme minister rakesh sachan convicted in ballast theft case

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में एमएसएमई मंत्री राकेश सचान ने अपने ऊपर लगे आरोपो का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि सभी बातें भ्रामक है। मंत्री राकेश सचान ने कहा है कि कोई भी न्यायालय के आदेश की अवहेलना नहीं हुई है यह जो केस है 90- 91 के से कुछ वाद...

कानपुर: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में एमएसएमई मंत्री राकेश सचान ने अपने ऊपर लगे आरोपो का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि सभी बातें भ्रामक है। मंत्री राकेश सचान ने कहा है कि कोई भी न्यायालय के आदेश की अवहेलना नहीं हुई है यह जो केस है 90- 91 के से कुछ वाद लंबित हैं जिसमें कोर्ट ने अगली तारीख देने की बात कही है।

इस मामले को लेकर जो भी भ्रामक बातें चल रही है और विद्यार्थी जीवन से हम लोगों के ऊपर उस समय संघर्ष के दौरान जो केस लगाए गए थे 1990,1991 में के दशक में जब हम लोग विद्यार्थी राजनीति करते थे वही कुछ मामले अदालत में लंबित है। उसी माममले को लेकर सुनवाई चल रही है। बता दें कि कानपुर की एसीएमएम तृतीय कोर्ट ने गिट्टी चोरी मामले में दोषी करार पाया है। हालांकि कोर्ट ने इस मामले में फैसले को सुरक्षित रखा है।

बता दें कि राकेश सचान ने अपनी राजनीति की शुरुआत समाजवादी पार्टी से की थी।  1993 और 2002 में वह घाटमपुर विधानसभा सीट से विधायक रहे और 2009 में उन्होंने फतेहपुर लोकसभा सीट से चुनाव जीता था। उन्होंने बसपा के महेंद्र प्रसाद निषाद को करीब एक लाख वोटों से हराया था। राकेश सचान मुलायम सिंह और शिवपाल सिंह के बेहद करीबी माने जाते थे। इसके बाद उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया था। उन्होंने  2022 के विधानसभा चुनाव से पहले  कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। भाजपा ने राकेश सचान को कानपुर देहात की भोगनीपुर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया था और उन्होंने सपा के नरेंद्र पाल सिंह को हराकर जीत हासिल की थी।  उन्हें उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में एमएसएमई मंत्री बनाया

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!