मौर्य ने चर्चा में बने रहने के लिए रामचरितमानस पर विवादित बयान दिया: OP राजभर

Edited By Harman Kaur, Updated: 24 Jan, 2023 05:23 PM

maurya made a controversial statement on ramcharitmanas to remain

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने मंगलवार को कहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने चर्चा में बने रहने के लिए रामचरितमानस.....

बस्ती: उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने मंगलवार को कहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने चर्चा में बने रहने के लिए रामचरितमानस (Ramcharitmanas) पर विवादित बयान दिया है। राजभर ने कहा कि मौर्य बिना सत्ता के नहीं रह पाते है, राम की शरण भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में जाकर अपनी बेटी को सांसद बना लिए तब उन्हें रामचरितमानस पर ध्यान नहीं आया था।

PunjabKesari

ये भी पढ़े...यूपी स्थापना दिवस पर बोले CM योगी- आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश' की संकल्पना हो रही साकार

'कोई पूछने वाला नहीं है इसलिए विवादित बयान देकर अपने आप को चर्चित कर रहे हैं'

राजभर ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि श्री मौर्य जब बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में थे तब उनकी पार्टी सत्ता में नहीं आई जिससे मजबूर होकर उन्होंने राम की शरण में आकर भाजपा के नेतृत्व में अपनी बेटी को सांसद बना लिया और स्वयं 5 वर्ष तक सत्ता में मंत्री के रूप में कार्यरत रहे। तब उन्हें रामचरितमानस के विषय में ध्यान नहीं आया तब तो राम की शरण खोज रहे थे आज उन्हें कोई पूछने वाला नहीं है तब विवादित बयान देकर अपने आप को चर्चित कर रहे हैं यह बहुत ही निंदनीय है।

PunjabKesari

ये भी पढ़े...Dhirendra Shastri: विवादों के बीच बागेश्वर धाम सरकार की बढ़ी लोकप्रियता, अब प्रयागराज में सज सकता है दरबार

सुनने वालों के चश्मे की पावर होती है अलग-अलग: राजभर
उन्होंने कहा कि सपा, बसपा तथा कांग्रेस पार्टी मुस्लिम समुदाय के लोगों को डरा कर उनसे वोट ले लिया जाता है और उनके हित के लिए कोई काम नहीं किया जाता है और सभी लोग भाजपा से पूछते हैं कि मुस्लिम समुदाय के लिए सरकार क्या कर रही है, लेकिन सच्चाई कुछ और ही है, जो सभी लोग भली भांति जानते हैं। उन्होंने ‘बागेश्वर धाम' धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri) पर लग रहे आरोपों को लेकर कहा कि आरोप और प्रत्यारोप लगाना एक अलग विषय है, कोई भी संत या कोई कथावाचक आपस में बैर रखना नहीं सिखाता है, जो भी व्यासपीठ पर बैठता है वह ज्ञान और उपदेश ही देता है। अब उसे सुनने वालों के चश्मे की पावर अलग-अलग होती है। कुछ लोग उसमें बुराई ढूंढते हैं तो कुछ लोग उससे सीख लेते हैं जो लोग आरोप लगा रहे हैं वह लोग पहले अपना चश्मा सही करें। 

Related Story

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!