Mathura: डेंगू से पीड़ित कोह गांव में लगेगा चिकित्सा शिविर, अब तक 8 बच्चों की हो चुकी है मौत

Edited By Umakant yadav, Updated: 27 Aug, 2021 02:37 PM

mathura instructions to set up medical camp in suffering from dengue

उत्तर प्रदेश के पशुपालन, डेयरी एवं मत्स्य पालन मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने डेंगू से पीड़ित मथुरा जिले के कोह गांव में मेडिकल कैम्प लगाने के निर्देश दिए हैं। चौधरी ने गुरूवार देर शाम गांव का दौरा करने के बाद पत्रकारों से कहा कि अधिकारियों से कहा गया...

मथुरा: उत्तर प्रदेश के पशुपालन, डेयरी एवं मत्स्य पालन मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने डेंगू से पीड़ित मथुरा जिले के कोह गांव में मेडिकल कैम्प लगाने के निर्देश दिए हैं। चौधरी ने गुरूवार देर शाम गांव का दौरा करने के बाद पत्रकारों से कहा कि अधिकारियों से कहा गया है कि गांव में ही दवा वितरण तथा बढ़िया इलाज की व्यवस्था की जाये। गांव में घर घर सफाई एवं सैनिटाइजेशन करने के लिए अधिकारियों से कहा गया है। कोह के आस-पास के गांवों में सफाई एवं सैनिटाइजेशन करने को कहा गया है। बाल कल्याण समिति से अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन ठीक से करने के लिए निर्देशित किया है। जिन परिवारों में मृत्यु हुई है उन्हें आर्थिक सहायता देने के लिए वे मुख्यमंत्री से अनुरोध करेंगे।      

उधर, कोह गांव के प्रधान हरेन्द्र ने बताया कि बुधवार की रात लगभग 11 बजे गांव में अकबर की आठ वर्षीय सुहानी की मौत हो गई थी जिसका गुरूवार को सुबह अंतिम संस्कार किया गया था। इस प्रकार इस गांव में पिछले आठ दिन में आठ बच्चेां की मौत हो चुकी है। जचैंदा गांव में भी डेंगू का कहर जारी है। रालोद के प्रदेश उपाध्यक्ष कुंवर नरेन्द्र सिंह ने बताया कि इस गांव के 39 वर्षीय राजाराम की हालत गुरूवार को अधिक खराब होने के बाद उन्होंने प्रशासन से कहकर उसे रामकृष्ध मिशन अस्पताल वृन्दावन में भर्ती कराया था जहां पर आज उसकी मृत्यु हो गई। इस गांव में 3 साल के रोहित की मौत 23 अगस्त को ही हो चुकी है।      

जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने बताया कि कोह और जचैंदा गांव में एम्बुलेन्स लगा दी गई हैं। दोनो गावों में हर समय डाक्टर मौजूद हैं। इसके अलावा सफाई व्यवस्था को बेंहतर बनाने के लिए दोनो गांवों में से प्रत्येक में 70 सफाई कर्मचारी लगाए गए हैं। इसके अलावा एन्टी लार्वा स्प्रे के साथ ही फागिंग भी कराई जा रही है। जहां पर डेंगू या मलेरिया के सैम्पल मिल रहे हैं उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। कोह गांव में 200 से अधिक खून के सैम्पल डेंगू, मलेरिया के लिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि फरह सीएचसी में आठ बेड की व्यवस्था की गई है।इसके अलावा जिला अस्पताल में 20 बेड तथा सौ शैया अस्पताल वृन्दावन में 30 बेड की व्यवस्था की गई है। 14 मरीज जिला अस्पताल में 8 मरीज सौ शैया अस्पताल में तथा पांच मरीज सीएचसी फरह में भर्ती कराए गए हैं। इसके अलावा कुछ लोग निजी अस्पतालों में भी भर्ती हैं।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!