भोजन की थाली दिखा फूट-फूटकर रोया फिरोजाबाद का सिपाही, बोला- ये रोटियां कुत्‍तों को डाल दीजिए...

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 11 Aug, 2022 12:57 PM

firozabad s soldier wept bitterly after showing the plate of food

यूपी पुलिस विभाग में मिल रहे खाने की गुणवत्ता की पोल उस वक्त खुल गई जब एक सिपाही भोजन की थाली देखकर फूट-फूट कर रोने लगा। उसने कहा कि वह दो दिन से भूखा है, लेकिन कोई अधिकारी ध्यान नहीं दे रहा है। दरअसल, माम...

फिरोजाबाद: यूपी पुलिस विभाग में मिल रहे खाने की गुणवत्ता की पोल उस वक्त खुल गई जब एक सिपाही भोजन की थाली देखकर फूट-फूट कर रोने लगा। उसने कहा कि वह दो दिन से भूखा है, लेकिन कोई अधिकारी ध्यान नहीं दे रहा है। दरअसल, मामला फिरोजाबाद का है। जहां भोजन की थाली को लेकर सिपाही ने जमकर हंगामा किया। सिपाही का आरोप है कि जवानों को खाने के लिए घटिया क्वालिटी का भोजन दिया जाता है। उसने कहा कि हमने इसे लेकर कई बार आवाज उठाई, मगर शिकायत के बाद भी उच्च अधिकारियों ने कोई सुनवाई नहीं की। इसकी जानकारी प्रतिसार निरीक्षक को हुई तो तत्काल फोर्स भेजकर सिपाही को पुलिस लाइन लाया गया। एसएसपी ने मामले की जांच सीओ लाइन हीरालाल कन्नौजिया को सौंपी है।
PunjabKesari
क्या है मामला?
पूरा मामला रिजर्व पुलिस लाइन जिला मुख्यालय फिरोजाबाद दबरई से जुड़ा हुआ है। बुधवार दोपहर को जिला मुख्यालय के बाहर हाईवे पर एक सिपाही हाथ में भोजन की थाली लेकर पहुंचा। सिपाही हाईवे के डिवाइडर पर बैठकर थाली से रोटी उठाकर उसकी गुणवत्ता पर सवाल उठाने लगा। लोगों को रोटी दिखाते हुए सिपाही ने कहा कि इस रोटी को जानवर भी नहीं खा सकते हैं... ऐसी रोटी हमें परोसी जा रही है। जब भरपेट खाना ही नहीं मिलेगा तो कैसे ड्यूटी होगी। इस दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने इसका वीडियो बना लिया।
PunjabKesari
जानवर भी नहीं खा सकता ये खाना जो हमें दिया जाता है- सिपाही
देखते ही देखते बड़े पैमाने पर पुलिस प्रशासन एवं मीडिया एकत्रित हो गई।  कांस्टेबल मनोज कुमार के द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा 21 अक्टूबर को घोषणा की गई थी कि राज्य कर्मचारियों व उत्तर प्रदेश के पुलिस के जवानों के लिए पोस्टिक आहार बढ़ाने के लिए तीस से इकतीस परसेंट हमारी तरफ से वेतन भत्ता दिया जाता है। जिससे के सभी को पोस्टिक आहार मिल सके, लेकिन मनोज कुमार के द्वारा दी गई जानकारी में कहा गया कि आज हमें जो खाना दिया जा रहा है, इस खाने को एक जानवर नहीं खा सकता है जो हम लोगों को खिलाया जाता है।
PunjabKesari
कई बार अधिकारियों को कराया अवगत 
आरक्षी मनोज का कहना है कि उसने कई बार अधिकारियों को इस बारे में अवगत कराया। उनसे मिलने की कोशिश भी की, फोन पर बात करने की भी कोशिश की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद सिपाही को सड़क पर आना पड़ा> वहीं, इसकी मामले में जब पुलिस के आलाधिकारियों को भनक लगी तो पुलिस की जीप मौके पर पहुंच गई। उन्होंने आरक्षी मनोज को जबरन जीप में बिठाया और पुलिस लाइन ले आई। हालांकि इस मामले में पुलिस के आलाधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।
PunjabKesari
क्या कहती है पुलिस?
इस संबंध में पुलिस लाइन के प्रतिसार निरीक्षक देवेंद्र सिंह सिकरवार ने बताया कि पुलिस कार्यालय के सम्मन सेल में तैनात सिपाही मनोज कुमार का पत्नी से विवाद चल रहा है। इसके कारण वह परेशान रहता है। एसपी ग्रामीण अखिलेश नारायन सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है। इसकी जांच एसएसपी ने सीओ लाइन हीरालाल कनौजिया को सौंपी है। जांच की जा रही है कि खाना सभी को ऐसा मिल रहा है या केवल मनोज की शिकायत है।


 

Related Story

Trending Topics

Australia

146/7

19.5

West Indies

145/9

20.0

Australia win by 3 wickets

RR 7.49
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!