UP: परीक्षा के दौरान 4 शिक्षकों को पानी की जगह पिला दिया 'तेजाब', एक की हालत गंभीर

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 17 Jun, 2022 05:02 PM

up during the examination 4 teachers were given  acid

यूपी के अयोध्या से शिक्षकों के तेजाब पिलाने का बड़ा मामला सामने आया है। जहां अयोध्या के साकेत महाविद्यालय में 4 शिक्षकों को चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने पानी मांगने पर तेजाब पीला दिया, जिससे एक प्रोफेसर की...

अयोध्या: यूपी के अयोध्या से शिक्षकों के तेजाब पिलाने का बड़ा मामला सामने आया है। जहां अयोध्या के साकेत महाविद्यालय में 4 शिक्षकों को चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने पानी मांगने पर तेजाब पीला दिया, जिससे एक प्रोफेसर की हालत गंभीर है और उनको इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया है, जबकि 3 प्रोफेसर के मुंह में छाले और पेट मे जलन की शिकायत है।
PunjabKesari
बता दें कि घटना 15 जून की है, यहां जिले के साकेत महाविद्यालय में इन दिनों परीक्षाएं चल रही हैं। परीक्षाओं को संपन्न कराने के बाद 4 प्रोफेसर डॉक्टर सुधीर राय, डॉ अशोक राय, डॉ जन्मेजय तिवारी, डॉ मुजफ्फर मेहंदी परीक्षा ड्यूटी कर रहे थे. परीक्षा संपन्न होने के बाद प्रोफेसर ने चपरासी चंद्रप्रकाश से पानी मांगा। रोज की तरह चंद्रप्रकाश ने गिलास में पानी लाकर दिया, लेकिन शिक्षकों ने जैसे ही पानी का घूंट लिया उन्हें इस बात का आभास हो गया कि पानी नहीं है। जिसके बाद शिक्षकों ने तुरंत पानी उगल दिया।

जिसके बाद आनन-फानन में सभी प्रोफेसर श्री राम अस्पताल पहुंचे जहां से उन्हें दर्शन नगर मेडिकल कॉलेज भेजा गया। मेडिकल कॉलेज में एंडोस्कोपी कराई गई जिसमें सभी शिक्षकों को मुंह में छाले और आहार नाल में बर्निग की बात सामने आई है। लॉ विभाग के प्रोफ़ेसर डॉ अशोक राय की स्थिति ज्यादा खराब हो गई, जिसके बाद उन्हें लखनऊ इलाज के लिए भेजा गया है।

शिक्षकों के मुताबिक लगए पानी से धुआं उठता देख शिक्षक चिंतित हुए और उन्होंने इसकी शिकायत महाविद्यालय प्रशासन से की महाविद्यालय प्रशासन ने जांच कमेटी बैठा कर जांच शुरू कर दी है पुलिस भी तफ्तीश के लिए महाविद्यालय पहुंच चुकी है संदिग्ध परिस्थितियों में पानी में मिले केमिकल को लेकर के संबंधित चपरासी से पूछताछ की जा रही है साथ ही महाविद्यालय प्रशासन भी इस पूरी घटना पर टीम गठित कर जांच की बात कह रहा है।

साकेत महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ अभय सिंह ने बताया कि घटना जांच का विषय है। अध्यापकों ने पानी पीने के साथ शिकायत दर्ज कराई थी। उनको मुंह में तकलीफ हो रही है। चपरासी से पानी मांगा गया और चपरासी ने ही पानी ला कर दिया। बचे हुए पानी को वॉश बेसिन में डाला गया, जिसके बाद वॉश बेसिन में कोई भी प्रतिक्रिया नहीं हुई। पानी पिलाने वाले चपरासी को विभागीय नोटिस दी गई है। हालांकि महाविद्यालय के प्राचार्य अभय सिंह इसको साजिश नहीं मानते। उनका कहना है कि यह मानवीय भूल है। महाविद्यालय के प्राचार्य ने कहा कि एक जांच समिति का गठन किया जा रहा है और जांच समिति की रिपोर्ट के आधार पर ही पुलिस की कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेजी जाएगी। 

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

137/1

12.5

India are 137 for 1 with 7.1 overs left

RR 10.96
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!