‘परिवारवादियों और दंगावादियों’ को आजमगढ़ में फ‍िर से सबक मिलने जा रहा : स्‍वतंत्र देव सिंह

Edited By PTI News Agency, Updated: 18 Jun, 2022 11:08 PM

pti uttar pradesh story

लखनऊ, 18 जून (भाषा) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश सरकार के जल शक्ति मंत्री स्‍वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को राज्‍य की मुख्‍य विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) पर निशाना साधते हुए दावा किया कि ‘‘घोर परिवारवादियों और...

लखनऊ, 18 जून (भाषा) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश सरकार के जल शक्ति मंत्री स्‍वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को राज्‍य की मुख्‍य विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) पर निशाना साधते हुए दावा किया कि ‘‘घोर परिवारवादियों और दंगावादियों’’ को आजमगढ़ में फिर से सबक मिलने जा रहा है।

आजमगढ़ संसदीय क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ के समर्थन में वहां आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि आजमगढ़ लोकसभा के इस उप चुनाव में जब कमल खिलेगा तो उसकी सुगंध 2024 के लोकसभा चुनाव तक बनी रहेगी और भाजपा उत्तर प्रदेश की 80 में से 80 लोकसभा सीटें जीतने में सफल होगी।

गौरतलब है कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव के इस्तीफे से रिक्त हुई आजमगढ़ संसदीय सीट पर 23 जून को मतदान होगा और यहां समाजवादी पार्टी से पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव उम्मीदवार हैं। धर्मेंद्र यादव सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के चचेरे भाई हैं। सपा ने 2022 के विधानसभा चुनाव में आजमगढ़ जिले की सभी 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी।हालांकि, पार्टी प्रदेश में सरकार बनाने में विफल रही।

भाजपा मुख्‍यालय से जारी एक बयान के अनुसार आज़मगढ़ की जनसभा को सम्बोधित करते हुए सिंह ने कहा कि आज़मगढ़ ऋषि दुर्वासा की तपोभूमि है, जहां बात न्याय और धर्म की आती थी वहां ऋषि दुर्वासा किसी को माफ़ नहीं करते थे और यही कारण है कि यहां की जनता भी अब उन लोगों माफ नहीं करेगी जिन्होंने यहां सांसद रहते हुए भी उनके सुख-दुःख की चिंता नहीं की।

उन्होंने कहा कि आज़मगढ़ में सपा के प्रत्याशी ‘नामदार’ है और भाजपा के प्रत्याशी कामदार है। सिंह ने आरोप लगाया कि जो भूमि कभी ऋषियों के लिए प्रसिद्ध थी वह भूमि सपा शासन में आतंकियों के अड्डे के लिए प्रसिद्ध हुई।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्व में आजमगढ़ ‘आर्यमगढ़’ बनने की ओर अग्रसर है।
गौरतलब है कि आजमगढ़ का नाम बदलकर आर्यमगढ़ किये जाने की मांग काफी दिनों से चल रही है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!