कोविड अस्पताल के ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी, क्राइम ब्रांच ने दो सप्लायरों को किया गिरफ्तार

Edited By Umakant yadav, Updated: 16 May, 2021 10:02 PM

black marketing of oxygen cylinder hospital crime branch arrested two suppliers

कोरोना जैसी घातक महामारी के दौर में जहां एक तरफ लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण दम तोड़ रहे हैं, वहीं दूसरी ओर भदोही में कुछ लोग ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करके उसे महंगे दामों पर लोगों को चोरी छुपे बेच रहे हैं।

भदोही: कोरोना जैसी घातक महामारी के दौर में जहां एक तरफ लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण दम तोड़ रहे हैं, वहीं दूसरी ओर भदोही में कुछ लोग ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करके उसे महंगे दामों पर लोगों को चोरी छुपे बेच रहे हैं। इसी बीच ऑक्सीजन सिलेंडर की ब्लैक मार्केटिंग करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए क्राइम ब्रांच ने उनके पास से नौ जंबो सिलेंडर बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपियों की रजिस्टर्ड फर्म जिले की सरकारी एल टू कोविड अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई करती है। आरोपी सरकारी अस्पताल के लिए आवंटित ऑक्सीजन सिलेंडरों की कालाबाजारी करते थे, इसमें अस्पताल कर्मियों की मिलीभगत की संभावना को देखते हुए पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

पुलिस ने बताया कि कई दिनों से यह सूचना मिल रही थी कि भदोही कस्बे में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी की जा रही है और जरूरतमंद लोगों को मुंह मांगी कीमत पर इन ऑक्सीजन सिलेंडरों को बेचा जा रहा है। जिसे देखते हुए क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर शहर कोतवाली के फत्तूपुर सालिमपुर में दबिश देकर अनन्या एजेंसी से नौ जंबो सिलेंडर, रिफिलिंग का सामान बरामद करते हुए दो आरोपी सुग्रीव और श्याम गुप्ता को गिरफ्तार किया है। आरोपियों को मीडिया के सामने पेश करते हुए डिप्टी एसपी प्रियंक जैन ने बताया कि जब लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी महसूस हो रही थी तो उस दौरान आरोपी गैस सिलेंडरों की कालाबाजारी कर रहे थे।

गिरफ्तार आरोपियों की फर्म कोविड एल टू अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई दे रही है। इसी बीच जब ऑक्सीजन की कमी पढ़ती थी तो यह लोग अस्पताल को आवंटित ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करते थे। इसमें अस्पताल कर्मियों की भी मिलीभगत हो सकती है इस संभावना के साथ कॉल डिटेल सर्विलांस के माध्यम से  खंगाली जा रही है। इस मामले में जो भी दोषी मिलेगा उसे जेल भेजा जाएगा।

गौरतलब हो कि पिछले दिनों जब अचानक करोना से संक्रमित गंभीर मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी थी तो उस दौरान कई मरीजों के तीमारदारों ने यह शिकायत किया था कि उन्हें बाहर से सिलेंडर लेने के लिए अस्पताल कर्मी बोल रहे हैं। जबकि अस्पताल में ऑक्सीजन उपलब्ध है। ऐसे में उसी समय से आशंका जताई जाने लगी थी कि अस्पताल के कर्मचारियों की मिलीभगत से जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी की जा रही है।  सूत्रों की माने तो अगर इस मामले की गम्भीरता से जांच की गई तो कोविड अस्पताल के कई कर्मचारियों की गर्दन फंसेगी।

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!