प्रयागराज हिंसा: 24 घंटे के भीतर घटना का मास्टरमाइंड जावेद पुलिस हिरासत में, पूछताछ जारी

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 11 Jun, 2022 02:09 PM

prayagraj violence the mastermind of the incident javed in police

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उपद्रवियों की हिंसा के मामले का मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप को पुलिस ने शनिवार को हिरासत में ले लिया। प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस...

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उपद्रवियों की हिंसा के मामले का मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप को पुलिस ने शनिवार को हिरासत में ले लिया। प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि शहर के खुल्दाबाद थाना क्षेत्र में अटाला बाग इलाके में कल जुमे की नमाज के बाद हुए उपद्रव की वारदात के 24 घंटे के भीतर पुलिस ने जावेद को घटना के मास्टरमाइंड के रूप में चिन्हित कर हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि कल की हिंसा के बाद पुलिस की पड़ताल में वारदात के मास्टरमाइंड के रूप में जावेद का नाम सामने आया था।    

कुमार ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ अतीत में हुए आंदोलन में भी जावेद द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की बात पड़ताल में सामने आयी है। उन्होंने कहा कि जावेद का मोबाइल फोन कब्जे में लेकर जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में पढ़ने वाली जावेद की बेटी उसे परामर्श देती है। कुमार ने स्पष्ट किया किसी को परामर्श देना कोई जुर्म नहीं है लेकिन अगर कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए जरूरत पड़ी तो जावेद की इन गतिविधियों से जुड़े अन्य लोगों से भी पूछताछ की जा सकती है।        

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को जुमे की नमाज के सकुशल अता होने के बाद कुछ लोगों ने गलियों में आकर उपद्रव किया। इस मामले में थाना खुल्दाबाद में 29 गंभीर धाराओं में 70 नामजद और 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ तीन मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। इनमें से 68 लोगों को हिरासत में लिया गया है। कुमार ने बताया कि हिरासत में लिये गये लोगों से पूछताछ की जा रही है और इन लोगों के हिंसा में शामिल होने के बारे में सबूत भी एकत्र किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सबूतों के आधार पर हिंसा में संदिग्ध आरोपियों की जिम्मेदारी तय करते हुए इनके खिलाफ गैगस्टर एक्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत मामले दर्ज किये जायेंगे। साथ ही नामजद लोगों की अवैध संपत्तियों का भी पता लगा कर इन्हें बुलडोजर से ध्वस्त किया जायेगा।       

उन्होंनेे बताया कि इस मामले की पड़ताल में एआईएमआईएम सहित कुछ अन्य संगठनों से जुड़े लोगों की इस मामले में भूमिका की जांच की जा रही है। कुमार ने बताया कि कल के उपद्रव के बाद खुल्दाबाद इलाके में फिलहाल शांति व्यवस्था कायम है। पुलिस एवं प्रशासन इलाके में स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है।


 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!