एक मकान में 6 लाशें और खुदकुशी का दावा...कई मनगढ़ंत कहानियां, अब बड़ा भाई ही निकला हत्यारा

Edited By Imran,Updated: 15 May, 2024 03:33 PM

6 dead bodies in a house in sitapur and claim of suicide

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में 11 मई को एक घर में ही 6 लोगों की हत्या कर दी जाती है, सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंचती है और छानबीन करती है जिसमें पता चलता है कि 5 की हत्या कर छठवें ने खुद को गोली मार लिया है। उसके बाद से पुलिस को भी लगता है कि...

Sitapur News: उत्तर प्रदेश के सीतापुर में 11 मई को एक घर में ही 6 लोगों की हत्या कर दी जाती है, सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंचती है और छानबीन करती है जिसमें पता चलता है कि 5 की हत्या कर छठवें ने खुद को गोली मार लिया है। उसके बाद से पुलिस को भी लगता है कि मामला छठवें व्यक्ति के मरने के बाद खत्म हो चुका है, लेकिन इस हत्याकांड की कहानी तब उलझ जाती है जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आता है। 

सामूहिक हत्याकांड के बाद उस मृतक व्यक्ति यानि अनुराग सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आती है, जिस पर आरोप लगा था कि सबको मारने के बाद खुद को गोली मार लिया। लेकिन रिपोर्ट की कहानी कुछ अलग दास्तां बयां कर रही थी। दरअसल, जिस अनुराग पर अपने घरवालों की हत्या करने के बाद खुदकुशी करने का इल्जाम लग रहा था, वो तो खुद ही किसी कातिल का शिकार बना था। क्योंकि सिर में दो गोली लगने का मतलब खुदकुशी करना हो नहीं सकता। क्योंकि कोई भी इंसान एक-एक कर अपने सिर पर दो गोली नहीं मार सकता, लेकिन अब सवाल उठता है कि यदि घर में घुसकर छह लोगों की हत्या करने वाला अनुराग की मौत को सुसाइड ही दिखाना चाहता था, तो फिर उसने उसके सिर में दो गोली क्यों मारी? 
PunjabKesari
जानिए इस सामूहिक हत्याकांड की पूरी कहानी? 
यूपी के सीतापुर जिले में एक छोटा सा गांव पाल्हापुर है, यहां 11 मई को एक काली सुबह होती है। गांव वाले उठते हैं एक घर का मंजर देखकर सबकी सांसे हलक में अटक जाती है। घर के सामने छोटे-छोटे 3 बच्चे खून से लथपथ पड़े हुए हैं, चीख रहे हैं चिल्ला रहे है। इतना भयानक मंजर देखकर पहले गांव वालो को समझ नहीं आया कि हुआ क्या है। फिर कुछ लोगों ने हिम्मत जुटाकर घर के अंदर तो पता चला कि पूरे मकान में लाशें ही लाशें पड़ी हुई है। जिसकी पहचान करने के बाद पता चला कि एक शव घर के बड़े बेटे अनुराग सिंह की, दूसरी उसकी बीवी प्रियंका की और तीसरी अनुराग की 65 साल की बुजुर्ग मां सावित्री की है। 
PunjabKesari
6 लोगों की मौत बन चुका था रहस्य?
गांव वालों ने जैसे ही इस घटना की सूचना पुलिस को दी तो पुलिस मौके पर पहुंची जहां पर अनुराग सिंह का छोटा भाई अजीत सिंह भी मिला, जो अनुराग के घर से थोड़ी ही दूर एक दूसरे मकान में रहता है। अजीत की मानें तो उसे इस वारदात कोई जानकारी नहीं थी, उसे तो बस इतना पता था कि वारदात वाली रात अनुराग की अपनी पत्नी प्रियंका से काफी तेज़ लड़ाई चल रही थी। लेकिन तीन-तीन बच्चों समेत कुल छह लोगों की मौत के इस मामले का सच क्या था, ये एक बड़ा रहस्य बन चुका था। 
PunjabKesari
मनगढ़ंत कहानी बनाता रहा मृतक का भाई अजीत
पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और उसके बाद घटना की तह तक पहुंचने के लिए मृतक के भाई अजीत और गांव वाले से पूछताछ करनी शुरू कर दी, जिसमें देखा गया कि अजीत अपने बयानों को गोलमोल कर पेश कर रहा है। कभी अपने भाई को सनकी बता रहा था तो कभी कहता था कि उसका दिमागी हालत ठीक नहीं रहता है। अजीत ने बताया कि उसका भाई नशा करता था, घरेलू लड़ाई को लेकर परेशान रहता था। उसी ने ऐसा जघन्य अपराध किया है और खुद को भी गोली मार लिया है। 

अनुराग के साले अंकित ने खोला 6 कत्ल का राज
इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस का संदेह तो था ही उधर, लखनऊ में रहने वाले अनुराग के साले अंकित ने अजीत के खिलाफ हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराकर मामले को और दिशा दे दिया। अंकित के अनुसार, पुश्तैनी जायदाद की लालच में अनुराग के छोटे भाई अजीत ने ही ये सारी हत्याएं कीं। अंकित ने इस सिलसिले में पुलिस में लिखित तहरीर देकर अपने बहनोई के भाई अजीत पर क़त्ल का इल्जाम लगाया है और कहा है कि इस वारदात में उसके अलावा और भी लोग शामिल हो सकते हैं, क्योंकि एक आदमी का एक साथ-साथ छह छह लोगों की हत्या करना मुश्किल लगता है।


 

Related Story

Trending Topics

IPL
Chennai Super Kings

176/4

18.4

Royal Challengers Bangalore

173/6

20.0

Chennai Super Kings win by 6 wickets

RR 9.57
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!