UP: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला बोले- हंगामे की बजाय सदन में तकर्पूर्ण संवाद के जरिए अपनी बात रखनी चाहिए

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 20 May, 2022 12:16 PM

lok sabha speaker om birla inaugurates e vidhan

उत्तर प्रदेश में विधानमंडल की कार्यवाही पेपरलेस होगी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ई-विधान प्रणाली का उद्घाटन किया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला दो दिवसीय ई-विधान प्रणाली के प्रशिक्षण कार्यक्रम में विधानसभा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानमंडल की कार्यवाही पेपरलेस होगी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ई-विधान प्रणाली का उद्घाटन किया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला दो दिवसीय ई-विधान प्रणाली के प्रशिक्षण कार्यक्रम में विधानसभा सदस्यों के प्रबोधन कार्यक्रम में उनको संबोधित करते हुए उन्हें बधाई दी। बिरला ने इस मौके पर कहा कि सार्थक संवाद की जरूरत पर बल देते हुये कहा कि नारेबाजी और हंगामे की बजाय सदन में तकर्पूर्ण संवाद के जरिए सदस्यों को अपनी बात सदन के पटल पर रखनी चाहिए। ई-विधान प्रणाली के प्रशिक्षण कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि विधानमंडल का मूल काम कानून बनाना है और इसके लिए सदन में तर्क के साथ बहस होनी चाहिये। जितना सार्थक संवाद होगा, सरकार को भी जनहित की योजनाओं के क्रियान्वयन में उतनी ही मदद मिलेगी। सदस्यों के आचरण से सदन की गरिमा तय होती है। देश के बड़े नेता विधान मंडलों से निकले हैं और वे तर्क के जरिए ही अपनी बात रखते हैं।

  https://up.punjabkesari.in/uttar-pradesh/news/lok-sabha-speaker-om-birla-inaugurates-e-vidhan-1603413

गौरतलब है कि विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों को सदन की कार्यवाही से संबंधित प्रक्रियागत नियमों एवं कार्यकलापों से अवगत कराने के लिये आज से 2 दिवसीय प्रबोधन कार्यक्रम आयोजित किया गया है। कार्यक्रम के तहत पहली बार आहूत हो रहे पेपरलैस सत्र के तकनीकी पहलुओं से भी सदस्यों को अवगत कराया जायेगा। नयी व्यवस्था के तहत सभी सदस्यों की सीट के सामने एक टेबलेट लगाया गया है, जिसके माध्यम से विधायक सदन की बैठक में अपनी उपस्थित दर्ज कराने के साथ साथ बिना कागज का इस्तेमाल किये सदन की कार्यवाही से अवगत हो सकेंगे और सवाल भी पूछ सकेंगे। सदस्यों को उनकेे सवालों के जवाब ई-मोड में टेबलेट पर ही मिल जाएंगे।

विधान सभा को पेपरलैस बनाने के लिये इस्तेमाल की गयी तकनीक को ‘ई-विधान' नाम दिया गया है। प्रबोधन सत्र में सभी सदस्यों को इसके तकनीकी पहलुओं से परिचित कराया जायेगा। जिससे सत्र के दौरान सदन में सदस्यों को इसके इस्तेमाल में परेशानी न हो। विधान सभा सचिवालय 1989 से प्रबोधन कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। इस क्रम में 18वीं विधानसभा में पहली बार निर्वाचित हुए सदस्यों को संसदीय परंपराओं, प्रक्रियाओं और कार्यविधिओं से अवगत कराने के लिये इस बार 20 और 21 मई को प्रबोधन कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

यूपी की 18वीं विधानसभा में नवनिर्वाचित विधायकों के प्रशिक्षण, प्रबोधन कार्यक्रम का आयोजन 20 और 21 मई को किया गया है। राज्य की 18वीं विधानसभा में निर्वाचित विधायकों के प्रबोधन कार्यक्रम (प्रशिक्षण कार्यक्रम)का उद्घाटन 20 मई, को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना द्वारा किया जाएगा। इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना भी उपस्थित रहे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में विधायकों के ई-विधान प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

Match will be start at 01 Jul,2022 04:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!