ज्ञानवापी मामला: जज ने सील बंद लिफाफा लेने से किया इनकार, लीक मामले की सुनवाई 4 जुलाई को होगी

Edited By Ramkesh, Updated: 31 May, 2022 03:10 PM

gyanvapi survey report case judge refuses to take sealed envelope

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट मामले में सील बंद लिफाफे को लेने से कोर्ट ने इनकार कर दिया है। वहीं वायरल वीडियों के लीक मामले की जांच के लिए अगली तारीख 4 जुलाई निर्धारित की है। बता दें कि आम वादी पक्ष ने  कमीशन की कार्रवाई से जुड़े फोटो वीडियो को जिला...

वाराणसी: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट मामले में सील बंद लिफाफे को लेने से कोर्ट ने इनकार कर दिया है। वहीं वायरल वीडियो के लीक मामले की जांच के लिए अगली तारीख 4 जुलाई निर्धारित की है। बता दें कि  वादी पक्ष ने कमीशन की कार्रवाई से जुड़े फोटो वीडियो को जिला न्यायालय में सरेंडर करने के लिए पहुंचा था। महिलाओं ने कहा कि उनकी तरफ से किसी भी फोटो वीडियो को किसी को शेयर नहीं किया गया है। आखिर कैसे हर जगह वीडियो हो गया है। महिला ने बताया कि हम किसी भी आरोप से बचने के लिए आज न्यायालय में सर्वे की सभी रिपोर्ट को सीलबंद लिफाफे को कोर्ट में सरेंडर करना चाहते थे लेकिन कोर्ट ने लिफाफा लेने से इनकार कर दिया  है। दरअसल, ज्ञानवापी मामले में सर्वे का वीडियो भी वायरल हो गया। इस मामले के सामने आने के बाद हिंदू पक्ष ने इससे पल्ला झाड़ लिया है और दावा किया कि सर्वे के वीडियो को किसी ने वायरल कर दिया है।

वहीं, हिंदू पक्ष के वकील हरिशंकर जैन और सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि उन लोगों को जो लिफाफा मिला है, उसे अभी तक खोला नहीं गया है। ऐसे में यह बड़ा सवाल है कि वीडियो कैसे लीक हो गया।  उन्होंने कहा कि अब हम लोग अपने सभी लिफाफे मंगलवार को कोर्ट में सरेंडर कर देंगे। अब हम कोर्ट से इस बारे में शिकायत करेंगे। अदालत में शपथ पत्र देने के बाद हिंदू पक्ष की तरफ से वादी पक्ष की पांच में से चार महिलाओं को सील बंद लिफाफे में रिपोर्ट की सीडी मिली थी। बताया जा रहा है कि शपथ पत्र नहीं देने के कारण दूसरे पक्ष को अभी रिपोर्ट या सीडी नहीं मिली है। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!