बैठक में बोले धन सिंह रावत- नशा मुक्त अभियान के लिए गठित होगी टास्क फोर्स

Edited By Nitika, Updated: 06 Aug, 2022 05:03 PM

statement of dhan singh rawat

उत्तराखंड में उच्च शिक्षा को शोध एवं रोजगारपरक बनाने के उद्देश्य से प्रत्येक जनपद में मॉडल कॉलेज बनाए जाएंगे। जहां पर शिक्षा के साथ ही शोध कार्यों एवं रोजगारपरक पाठ्यक्रमों का भी संचालन किया जाएगा।

 

देहरादून(कुलदीप रावत): उत्तराखंड में उच्च शिक्षा को शोध एवं रोजगारपरक बनाने के उद्देश्य से प्रत्येक जनपद में मॉडल कॉलेज बनाए जाएंगे। जहां पर शिक्षा के साथ ही शोध कार्यों एवं रोजगारपरक पाठ्यक्रमों का भी संचालन किया जाएगा। सूबे में प्रत्येक राजकीय विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों को NAC एवं NIRF रैंकिंग के लिए अनिवार्य रूप से आवेदन करना होगा। उच्च शिक्षण संस्थानों में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति को रोकने के लिए टास्क फोर्स का गठन कर नशा मुक्ति अभियान चलाया जाएगा।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने विधानसभा स्थित कार्यलय कक्ष में उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक ली, जिसमें उन्होंने अधिकारियों को प्रत्येक जनपद में आवश्यकतानुसार मॉडल कॉलेज बनाए जाने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। डॉ. रावत ने बताया कि इन महाविद्यालयों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के तहत शोध एवं व्यावसायिक पाठ्यक्रमों का संचालन किया जाएगा, ताकि छात्र-छात्राओं को व्यावसायिक शिक्षा के साथ ही रोजगार उपलब्ध करवाया जा सके। विभागीय मंत्री ने उच्च शिक्षा में क्वालिटी एजुकेशन को बढ़ावा देने को लेकर सभी राजकीय विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों को NAC एवं NIRF रैंकिंग के लिए अनिवार्य रूप से आवेदन करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली रैंकिंग में सूबे के राजकीय शिक्षण संस्थानों को प्रतिभाग करना जरूरी है ताकि शिक्षा की गुणवत्ता को और बेहत्तर किया जा सके।
PunjabKesari
डॉ. रावत ने उच्च शैक्षणिक संस्थानों में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति पर रोक लागने के लिए टास्क फोर्स गठित करने के निर्देश भी विभागीय अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि टास्क फोर्स के माध्यम से आगामी एक सितम्बर से नशा मुक्ति अभियान चलाकर नशे के दुष्प्रभावों के प्रति छात्र-छात्राओं को जागरुक किया जाएगा। विभागीय मंत्री ने अधिकारियों को राजकीय महाविद्यालयों में एक-एक योग प्रशिक्षक तैनात किए जाने हेतु शीघ्र प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। इसके अलावा जिन महाविद्यालयों में प्राचार्य के पद रिक्त हैं, उनके डीपीसी के माध्यम से भरने को कहा गया है।

डॉ. रावत ने कहा कि अधिकतर महाविद्यालयों द्वारा एनसीसी एवं एनएसएस इकाई खोले जाने की मांग की जा रही है, जिस हेतु अधिकारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए गए है। विभागीय मंत्री डॉ. रावत ने कहा कि 15 अगस्त को सभी राजकीय महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में प्रभात फेरी का आयोजन किया जाएगा, जिसकी तैयारियों को लेकर संबंधित प्राचार्यों के साथ शीघ्र वर्चुअल मीटिंग करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!