UP: पावर कारपोरेशन ने बढ़ाई गरीब उपभोक्ताओं की संख्या, परिषद ने अतिरिक्त वसूली को वापस करने की उठाई मांग

Edited By Mamta Yadav, Updated: 15 Jun, 2022 06:35 PM

up power corporation increased the number of poor consumers

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के रिकार्ड में अचानक गरीब विद्युत उपभोक्ताओं की संख्या में कई गुने इजाफे पर हैरानगी जताते हुये विद्युत उपभोक्ता परिषद ने पहले जनरल टैरिफ में की गयी अतिरिक्त वसूली को वापस करने की मांग की है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के रिकार्ड में अचानक गरीब विद्युत उपभोक्ताओं की संख्या में कई गुने इजाफे पर हैरानगी जताते हुये विद्युत उपभोक्ता परिषद ने पहले जनरल टैरिफ में की गयी अतिरिक्त वसूली को वापस करने की मांग की है।       

परिषद के अध्यक्ष अवधेश वर्मा ने बुधवार को कहा कि प्रदेश की बिजली कम्पनियों द्वारा रातों रात 19 लाख लाइफ लाइन गरीब विद्युत उपभोक्ताओं की संख्या को इस वर्ष टैरिफ प्रस्ताव में कागज में बढाकर एक करोड 39 लाख दिखाया गया है यानि करीब एक करोड 20 लाख अधिक। ऐसे में पावर कारपोरेशन को इन उपभोक्ताओं से पिछले वर्षों में की गयी अधिक वसूली वापसी कराया जाना आवश्यक है।      

वर्मा ने बताया कि इस सिलसिले में उन्होने आज विद्युत नियामक आयोग के चेयरमैन आरपी सिंह से मुलाकात कर एक लोक महत्व जनहित प्रत्यावेदन सौंपा कि यदि एक करोड 20 लाख विद्युत उपभोक्त सौभाग्या के हैं तो यह बडा जॉंच का विषय है कि उस दोरान उनकी सप्लाई टाइप क्यों नही चेंज की गयी और जिसकी वजह से यह सभी विद्युत उपभोक्ता 1 किलोवाट 100 युनिट खर्च करने के बाद तीन रूपये प्रति यूनिट की जगह 3.35 रूपये प्रति यूनिट का भुगतान करते रहे। ऐसे में इन सभी से ज्यादा वसूली की वापसी तत्काल नियामक आयोग कराये।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

Match will be start at 28 Jun,2022 10:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!