एटीएस ने स्वतंत्रता दिवस पर विस्फोट की योजना बना रहे आतंकी को गिरफ्तार किया

Edited By PTI News Agency, Updated: 10 Aug, 2022 10:09 AM

pti uttar pradesh story

लखनऊ, नौ अगस्त (भाषा) उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर विस्फोट की साजिश रच रहे आईएसआईएस के जुड़े एक कथित आतंकी को मंगलवार को गिरफ्तार किया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।

लखनऊ, नौ अगस्त (भाषा) उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर विस्फोट की साजिश रच रहे आईएसआईएस के जुड़े एक कथित आतंकी को मंगलवार को गिरफ्तार किया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।

पुलिस के अनुसार आरोपी सबाउद्दीन आजमी फिलहाल एआईएमआईएम का सदस्य है और वह आईएसआईएस के संपर्क में आकर मुजाहिदीन संगठन तैयार कर भारत में इस्लामिक स्टेट स्थापित करने तथा शरिया कानून लागू कराने की योजना पर काम कर रहा था।
अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि एटीएस की टीम ने आजमगढ़ जिले के मुबारकपुर थाना क्षेत्र में अमिलो निवासी सबाउद्दीन आजमी उर्फ सबाहुद्दीन उर्फ सबाहु उर्फ दिलावर खान उर्फ बैरम खान को यहां एटीएस मुख्यालय में पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि आजमी के खिलाफ विधि विरूद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम-1967 एवं 3/25 शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।
उन्होंने बताया कि एटीएस ने आरोपी के पास से बम बनाने का सामान, विस्फोटक एवं एक अदद अवैध शस्त्र और कारतूस बरामद की है। बयान में दावा किया गया है कि एटीएस को सूचना मिली थी आजमगढ़ के अमिलो का एक व्यक्ति आईएसआईएस की विचारधारा से प्रभावित होकर जिहादी विचारों का प्रसार कर रहा है और अन्य लोगों को भी प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन आईएसआईएस से जुडने के लिए प्रेरित कर रहा है। इस सूचना पर आरोपी आजमी को पूछताछ के लिए एटीएस मुख्यालय लाया गया, जहां पूछताछ में इसके आईएसआईएस से जुड़े होने के प्रमाण मिले।

बयान के अनुसार आजमी ने फेसबुक पर बिलाल नाम के व्यक्ति से जुड़ने के बाद कश्मीर में मुजाहिदों पर हो रही कार्यवाही के बारे में बातचीत शुरू की और इसके बाद बिलाल ने उसे आईएसआईएस के सदस्य मूसा उर्फ खत्ताब कश्मीरी का नंबर दिया। आजमी की मूसा से बातचीत होने लगी और इसके बाद वह मूसा के जरिये सीरिया में रह रहे आईएसआईएस के अबू बकर अल शामी के संपर्क में आया।
बयान के मुताबिक अबू शामी ने इसका संपर्क मुर्तानिया के रहने वाले अबू उमर से कराया। अबू उमर द्वारा सोशल मीडिया ऐप के माध्यम से आजमी को हैंड ग्रेनेड, बम एवं आईईडी बनाने की ट्रेनिंग दी जाने लगी तथा मुजाहिदीन संगठन तैयार कर भारत में इस्लामिक स्टेट स्थापित करने तथा शरिया कानून लागू कराने की योजना पर काम करने लगे। बयान में यह दावा किया गया है कि सबाउद्दीन आजमी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सदस्यों को टारगेट करने की योजना पर काम कर रहा था।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Australia

146/7

19.5

West Indies

145/9

20.0

Australia win by 3 wickets

RR 7.49
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!