वन विभाग के हत्थे चढ़ा तस्कर,  गादुर पक्षी की तस्करी कर नेपाल में करता था सप्लाई

Edited By Ramkesh, Updated: 13 Jul, 2021 02:46 PM

gadur bird smuggler accused arrested used to supply in nepal

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के सोहगी बरवा वन अभ्यारण के निचलौल वन क्षेत्र में गश्त के दौरान वन कर्मियों को संदिगध लोगों के होने की आहट सुनाई दिया। वन कर्मियों ने देखा तो कुछ संदिगध लोग बैठे थे वन कर्मियों को देख भागने लगे। वन कर्मियों ने   एक...

महराजगंज: उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के सोहगी बरवा वन अभ्यारण के निचलौल वन क्षेत्र में गश्त के दौरान वन कर्मियों को संदिगध लोगों के होने की आहट सुनाई दिया। वन कर्मियों ने देखा तो कुछ संदिगध लोग बैठे थे वन कर्मियों को देख भागने लगे। वन कर्मियों ने   एक संदिग्ध को पकड़ लिया। जिसके पास से पांच जंगली पक्षी गादुर व जाल बरामद हुआ।
PunjabKesari
क्षेत्रीय वनाधिकारी जगरनाथ प्रसाद के मुताबिक वन दारोगा अवधेश मौर्य व सेक्सन प्रभारी सदर राजकुमार तिवारी वन रक्षक संग रात्रि में निचलौल दक्षिणी बिट के साथ वन्य अभ्यारण वन क्षेत्र सदर सेक्सन निचलौल क्रम संख्या 4 का सुरक्षात्मक गस्त करते हुए चमनगंज पुल से ढेसो पुल की तरफ जा रहे थे। इसी दौरान जंगल में किसी तस्क के होने की आशंका पड़ी वन कर्मी जब आगे बढ़ टार्च की रौशनी में देखा तो कुछ संदिग्ध जंगल मे बैठे दिखे वन कर्मियों को देख भागने लगे। वन कर्मियों ने दौड़ा कर एक संदिगध को पकड़ लिया, वही दूसरा जंगल झाड़ी सहित अंधेरे का फायदा उठा कर भागने में सफल रहा ।पकड़े गए संदिग्ध से वन कर्मियों ने पूछ ताछ किया। तब उसने अपना नाम पता राम बचन पुत्र तूफानी निवासी डोमा खास थाना निचलौल जनपद महराजगंज बताया।

उन्होंने बताया आरोपी के पास से पांच मृत जंगली गादुर पक्षी व जाल बरामद हुआ। कड़ाई से पूछ ताछ के दौरान उक्त अभियुक्त ने बताया कि जंगल से गादुर पक्षियों को पकड़ कर नेपाल में बेचता है, जिसका अच्छा खासा रकम उन्हें मिलता है। आरोपी के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम, वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत आरोपी को न्यायालय पेश कर जेल भेज दिया गया।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!