UP Board Toppers 2022: सफलता के लिए अनुशासन और समय प्रबंधन सबसे अहम, यूपी बोर्ड टॉपर्स को CM योगी ने दी नसीहत

Edited By Mamta Yadav, Updated: 22 Jun, 2022 07:11 PM

discipline and time management are most important for success cm yogi

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को अनुशासित जीवन शैली और समय प्रबंधन का मंत्र देते हुये कहा कि नियम और संयम किसी भी क्षेत्र में सफलता दिलाने के लिये महत्वपूर्ण आधार होते हैं।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को अनुशासित जीवन शैली और समय प्रबंधन का मंत्र देते हुये कहा कि नियम और संयम किसी भी क्षेत्र में सफलता दिलाने के लिये महत्वपूर्ण आधार होते हैं।      
 
PunjabKesari

योगी ने बुधवार को यूपी बोर्ड परीक्षा-2022 में लखनऊ जिले के टॉपर विद्यार्थियों से मुलाकात कर उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि जीवन में सफलता के लिए अनुशासन का बड़ा महत्व है। नियम और संयम आपको किसी भी क्षेत्र में सफलता दिलाने के लिए महत्वपूर्ण आधार होता है। छात्रों को समय प्रबन्धन पर विशेष ध्यान देना चाहिए। दिनचर्या में सोकर उठने से लेकर सोने तक का पूरा टाइम टेबल तय होना चाहिए। सुबह जल्दी उठें और रात्रि में अध्ययन के उपरांत समय से सोएं, यह आपके मन और तन को स्वस्थ और तरोताजा रखेगा।       

PunjabKesari

उन्होंने कहा कि तय पाठ्यक्रम के अलावा आपको देश-दुनिया के समसामयिक स्थिति से अपडेट रहना चहिए। अखबार एक अच्छा माध्यम है। दिनचर्या में एक समय अखबार पढ़ने के जरूर रखें। अखबारों के सम्पादकीय पृष्ठ विचारों से परिपूर्ण होते हैं अलग अलग विचारों को पढ़कर आप किसी विषय में अपना नजरिया तय कर सकते हैं। यह आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा अभिनव प्रयास करते हुए प्रतिवर्ष‘परीक्षा पे चर्चा'की जाती है। विद्यार्थियों और अभिभावकों को यह चर्चा जरूर सुननी चहिए। विद्यालय और घर..दोनों जगह का माहौल विद्यार्थियों के व्यक्तित्व पर असर डालता है। इसलिये शिक्षक हों या अभिभावक सकारात्मक माहौल बनाए रखने का प्रयास करें। महत्वपूर्ण यह भी है कि आप घर पर स्वाध्याय जरूर करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षक के पढ़ाने की शैली विषय की ग्राह्यता पर प्रभाव डालती है। शिक्षण संस्थाओं को चाहिए कि रोचक ढंग से पढ़ाएं। अध्ययन में अपेक्षाकृत कमजोर बच्चों के लिए विशेष कक्षाएं चलाई जानी चाहिए। केंद्र व राज्य सरकार द्वारा छात्रों/युवाओं के हित मे अनेक योजनाएं संचालित की जाती हैं। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, स्टैंड अप योजना, स्टाटर् अप योजना, मुद्रा योजना, डिजिटल इंडिया आदि योजनाओं का बड़ी संख्या में युवाओं ने लाभ लिया है। ऐसी व्यवस्था बनाये कि विद्यालयों में इन योजनाओं की जानकारी छात्रों को मिल सके। योजना का पूरा विवरण जैसे, उद्देश्य, अहर्ता, आवेदन का तरीका आदि पूरी जानकारी दें। प्रात:कालीन प्रार्थना सभा इसके लिए उचित अवसर हो सकती है।      

योगी ने कहा कि राज्य सरकार अभ्युदय कोचिंग संचालित करती है। यहां नीट, जेईई, यूपीएससी, यूपीपीएससी, एनडीए, सीडीएस सहित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की नि:शुल्क तैयारी कराई जाती है। इसकी विशेषता यह है कि इसका संचालन उनके द्वारा किया जाता है जिन्होंने सम्बंधित परीक्षा को उत्तीर्ण कर लिया है। जैसे युवा आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, पीपीएस अधिकारी, युवा डॉक्टर, नव चयनित इंजीनियर्स आदि। यह अभिनव कोचिंग वर्चुअल और फिजिकल दोनों मोड में चलती है। स्कूलों में बच्चों को इसकी जानकारी दी जानी चाहिए।      

उन्होंने कहा कि जल्द ही राज्य सरकार समारोह आयोजित कर बोर्ड के होनहार विद्यार्थियों का सार्वजनिक सम्मान करेगी। जिन विद्यालयों के विद्यार्थियों का नाम मेरिट सूची में आया है, वहां के पठन-पाठन के बेस्ट प्रैक्टिसेज पर आधारित प्रस्तुतिकरण अन्य विद्यालयों के समक्ष की जानी चाहिये। इस संबंध में अधिकारी व्यवस्था करेंगे।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

50/1

5.3

India are 50 for 1 with 14.3 overs left

RR 9.43
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!