कंगना के सपोर्ट में आई BJP: रीता बहुगुणा जोशी बोलीं- भारत में ‘Emergency’ पर फिल्म क्यों नहीं बन सकती

Edited By Umakant yadav, Updated: 23 Jul, 2021 01:30 PM

rita bahuguna joshi said  why can t a film on  emergency  be made in india

अपने विवादित बयानों से अक्सर सुर्खियां बटोरने वाली फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के आपातकाल (इमरजेंसी) फिल्म को लेकर प्रयागराज के प्रस्तावित दौरे से खफा कांग्रेस के विरोध पर भाजपा की वरिष्ठ नेता एवं सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि दुनिया में सरकार और...

प्रयागराज: अपने विवादित बयानों से अक्सर सुर्खियां बटोरने वाली फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के आपातकाल (इमरजेंसी) फिल्म को लेकर प्रयागराज के प्रस्तावित दौरे से खफा कांग्रेस के विरोध पर भाजपा की वरिष्ठ नेता एवं सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि दुनिया में सरकार और उसके कामकाज पर फिल्म बन सकती है तो भारत में ‘‘इमरजेंसी'' पर क्यों नहीं बन सकती।       

जोशी ने कहा कि कंगना एक सम्मानित कलाकार है। वह इमरजेंसी पर फिल्म बना रही हैं तो इसमें कांग्रेस को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। दुनियां में सरकार और उनके कामकाज को लेकर फिल्में बनी हैं, तब भारत में इमरजेंसी पर फिल्म क्यों नहीं बन सकती। इमरजेंसी की घटना को पूरे देश ने गलत माना है। ‘‘इंदिरा जी ने अपने जीवनकाल में, मनमोहन सिंह और राहुल गांधी ने गलत माना, फिर उसपर फिल्म बनती है, आलोचना होती है, तब डरना नहीं चाहिए।'' इतिहास में कुछ गलत हुआ है तो उसे सभी को जानना चाहिए।       

उन्होंने कहा कि भारत का संविधान व्यक्ति को अपने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता देता है। पूरे विश्व में कालखण्डों, घटनाओं, महापुरूषों, राजनेताओं, विद्वानों पर फिल्में बनी है और अब तो खिलाड़ियों पर भी फिल्में बनने लगी हैं। हर व्यक्ति को अपनी द्दष्टी से इतिहास को परिभाषित करने का अधिकार है। कंगना रनौत फिल्म बनाना चाहती हैं तो ये उनका संवैधानिक अधिकर है, वह बनाएं। जोशी ने कहा कि इतिहास गवाह है कि एक ही घटना को किसी व्यक्ति ने चार तरीके से लिखा है। इतिहास तो घटनाओं का मूल्यांकन है। कंगना रानौत को पहले भी सुरक्षा दी गयी है। उन्हें सुरक्षा की आवश्यकता महसूस होगी तो प्रदेश सरकार उनको सुरक्षा मुहैया करायेगी जिससे वह स्वतंत्ररूप से अपनी फिल्म की सूटिंग कर सकें।  एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में आलोचना करने का अधिकार है। उसकी अपनी सीमाएं है। अगर कांग्रेस को लगता है कि सीमाओं का उल्लंघन हुआ है या संवैधानिक रूप से गलत हुआ है तो अदालत के दरवाजे खुले हैं।       

कांग्रेस के स्थानीय नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का आरोप है कि चुनाव नजदीक आने के साथ ही एक बार फिर भाजपा उनके कथित समर्थकों को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद आ गयी। भारतीय राजनीति के इतिहास में जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति देकर देश का मान सम्मान और प्रतिष्ठा बढ़ाने के साथ एक नजीर भी पेश किया है। उनके सम्मान के साथ खिलवाड़ किया गया तो उचित नहीं होगा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोप लगया है कि भाजपा ने अपने कथित समर्थक फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के कंधे पर बंदूक रखकर चलाने का प्रयास किया है। इंदिरा गांधी की बायोपिक पर फिल्म निर्माण करने प्रयागराज आनेवाली हैं।

उन्होंने कहा कि संगम नगरी इंदिरा गांधी की जन्म स्थली, कर्म भूमि और पृष्ठ भूमि रही है। इंदिरा गांधी जैसी त्याग की देवी और देश के लिए बलिदान देने वाली महिला के मान-सम्मान के साथ खिलवाड़ करने या उन्हे अपमानित करने का कार्य किया गया तो अभिनेत्री कंगना रनौत और भाजपा कथित समर्थकों को याद रखना होगा कि कांग्रेस कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेगा, ईंट का जवाब पत्थर से देने का कार्य करेगा।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!