श्री राम मंदिर भूमि पूजन की दूसरी वर्षगांठ, जानिए दो सालों में कितना हुआ मंदिर निर्माण

Edited By Ajay kumar, Updated: 05 Aug, 2022 06:06 PM

know how much construction of shri ram temple happened in two years

5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधिवत धार्मिक अनुष्ठान के बीच श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन किया था, तब से लेकर लगातार रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य अनवरत जारी है। आज भूमिपूजन की दूसरी वर्षगांठ पर हम आपको बताएगें की आखिर कितना...

अयोध्याः 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विधिवत धार्मिक अनुष्ठान के बीच श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन किया था, तब से लेकर लगातार रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य अनवरत जारी है। आज भूमिपूजन की दूसरी वर्षगांठ पर हम आपको बताएगें की आखिर कितना हुआ है मंदिर निर्माण कार्य और आज के दिन क्या है खास..... 

बता दें कि भूमिपूजन से अनवरत निर्माण कार्य जारी है। बीते 2 वर्षों में नीव भरने और प्लिंथ निर्माण के बाद गर्भ गृह का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। मंदिर निर्माण से जुड़े लोगों की माने तो 2024 में रामलला का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा, लेकिन 2023 में ही राम भक्त गृभगृह में रामलला का दर्शन कर सकेंगे। मंदिर निर्माण की बात करें तो लगभग 30 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है जिसमें मंदिर का चबूतरा लगभग पूरा हो चुका है। गृभगृह स्थल पर तरासे गए पत्थर लगाने का कार्य पूरा हो चुका है। 

भूमि-पूजन के प्रथम वर्षगांठ की सभी को बधाई!-सीएम योगी 
इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक ट्वीट भी किया। योगी ने लिखा कि प्रभु श्री राम की पावन जन्मभूमि श्री अयोध्या जी में भारत की सकल आस्था के केंद्र-बिंदु व सभी के आराध्य प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण हेतु हुए हुए भूमि-पूजन के प्रथम वर्षगांठ की सभी को बधाई! प्रभु श्री राम की कृपा सभी पर बनी रहे। जय श्री राम!

सड़कों के चौड़ीकरण और नवीनीकरण के लिए 797 करोड़ रुपये मंजूर
हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने काशी विश्वनाथ गलियारा की तर्ज पर राम मंदिर को जाने वाली सड़कों के चौड़ीकरण और नवीनीकरण के लिए 797 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। इस संबंध में निर्णय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में किया गया। पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने संवाददाताओं को बताया, “अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण तेजी से चल रहा है और बड़े अवसरों पर भीड़ से बचने के लिए मंत्रिमंडल ने काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर सादतगंज से नयाघाट तक 12.9 किलोमीटर सड़क के चौड़ीकरण को मंजूरी दी है।” उन्होंने कहा कि फैजाबाद से हनुमानगढ़ी और राम मंदिर तक की सड़क को भी चौड़ा किया जाएगा और दुकानदारों को वाराणसी की तर्ज पर कहीं दूसरी जगह ले जाया जाएगा या उन्हें मुआवजा दिया जाएगा। मंत्री ने कहा कि मंत्रिमंडल ने इस परियोजना के लिए 797.69 करोड़ रुपये मंजूर किया है और इस कार्य को पूरा करने के लिए दो साल की समय सीमा तय की है।

म्यूजियम, गेस्ट हाउस से लेकर मिलेंगी अन्य सभी प्रकार की आधुनिक सुविधाएं --
ट्रस्ट के मुताबिक, राम मंदिर के निर्माण में कई धार्मिक, वास्तु चीज़ों का ध्यान रखा जा रहा है. अगर पूरे श्री राम मंदिर कॉम्प्लेक्स की बात करें तो मंदिर के अलावा यहां पर म्यूजियम, गेस्ट हाउस और अन्य सभी प्रकार की आधुनिक सुविधाएं मिल सकेंगी। ये पूरा निर्माण करीब 110 एकड़ की ज़मीन पर हो रहा है, जबकि ट्रस्ट को कुल 67 एकड़ की ज़मीन मुहैया कराई गई थी।

राजस्थान के भरतपुर से आएगा पत्थर
नींव के बाद मंदिर निर्माण में इस्तेमाल किए जाने वाले पत्थरों की बात करते हैं। राम मंदिर के लिए राजस्थान के भरतपुर में जिस माइन से पत्थर आना था, उसपर कुछ अदालती दिक्कतें आ रही थीं। लेकिन अब ये दिक्कतें दूर कर ली गई हैं, ऐसे में माइन से पत्थर को निकालने का काम किया जाएगा और उसे तराशने के बाद अयोध्या लाया जाएगा।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!