Agnipath Protest In UP: अग्निपथ योजना के हिंसक विरोध प्रदर्शनों में यूपी में हुईं 15 FIR, अब तक कुल 101 गिरफ्तार

Edited By Mamta Yadav, Updated: 18 Jun, 2022 09:56 PM

agnipath protest in up 15 firs registered in up for violent

सेना में भर्ती के लिये केन्द्र सरकार की नयी नीति के तहत घोषित ‘अग्निपथ योजना'' के खिलाफ उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने शनिवार तक 15 एफआईआर दर्ज की गई है। इन मामलों में 16 जून से अब तक 101 लोगों को...

लखनऊ: सेना में भर्ती के लिये केन्द्र सरकार की नयी नीति के तहत घोषित ‘अग्निपथ योजना' के खिलाफ उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन के मामले में पुलिस ने शनिवार तक 15 एफआईआर दर्ज की गई है। इन मामलों में 16 जून से अब तक 101 लोगों को अशांति एवं उपद्रव फैलाने के आरोप में गिरफ्तार भी किया गया है।       

उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक हिंसक विरोध प्रदर्शन वाले नौ जिलों (गोरखपुर, वाराणसी, गौतम बुद्ध नगर, देवरिया, बलिया, आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद और अलीगढ़ ) में कुल 15 मुकदमे दर्ज किये गये। इन मुक़दमों के आधार पर 101 आरोपियों को गिरफ़्तार भी किया गया है। इसके अलावा दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने के आरोप में कुल 168 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है। इस बीच शनिवार को जौनपुर, बदांयू, मिर्जापुर चंदौली, बलिया और शामली में लगातार दूसरे दिन भी अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन हुए। जौनपुर में प्रदर्शनकारियों ने जमकर उपद्रव करते हुए एक रोडवेज बस और जीप को फूंक दिया। साथ ही दो रोडवेज बसों में पथराव कर तोड़फोड़ की। पथराव में कई पुलिसकर्मी घायल हुये हैं।       

बदायूं में प्रदर्शनकारियों ने धरना प्रदर्शन के साथ उपद्रव करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस और प्रशासन की मुस्तैदी के कारण विरोध हिंसक रूप नहीं ले पाया। प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने शनिवार को सुबह बदायूं रेलवे स्टेशन पर पहुंच कर धरना प्रदर्शन करने की कोशिश की किंतु अफसरों की मुस्तैदी और भारी संख्या में पुलिस बल, पीएसी और आरपीएफ की तैनाती की वजह से ये लोग हिंसक प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। प्रदर्शन करने आए युवाओं से आला अफसरों ने ज्ञापन लेकर समझा-बुझाकर वापस भेज दिया।       

कुछ इसी तरह का नजारा मिर्जापुर में भी देखने को मिला। यहां भी पुलिस की तत्परता से चलते विरोध के स्वर हिंसक रूप धारण नहीं कर पाये। जिले में पहले से मुस्तैद पुलिस ने शनिवार को विरोध प्रदर्शन हिंसक रूप धारण करता, इसके पहले ही आठ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया। अन्य प्रदर्शनकारियों को चिन्हित कर गिरफ्तारी के प्रयास तेज किए गए हैं। इसके अलावा चंदौली में युवाओं ने शनिवार को जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस को प्रदर्शनकारियों की बेकाबू होती भीड़ को काबू में करने के लिये खासी मेहनत करनी पड़ी।       

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार को सुबह काफी संख्या में प्रदर्शनकारियों ने चंदौली के कुछमन रेलवे स्टेशन पहुंच कर स्टेशन के केबिन और रेलवे फाटक पर जमकर तोड़फोड़ की। युवाओं को काबू करने में पुलिस को खासी मेहनत करनी पड़ी। पुलिस जब सख्त हुई तो उपद्रवी युवकों ने पथराव शुरू कर दिया। जिससे तारा जीवनपुर चौकी प्रभारी घायल हो गए।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!