इलाज के दौरान दो मरीजों की मौत पर DM सख्त, CMS सहित कई चिकित्सकों के किए तबादले

Edited By Ramkesh, Updated: 01 Jul, 2022 02:58 PM

administration strict on the death of two patients during treatment

उत्तर प्रदेश में रायबरेली के जिला अस्पताल में बीते दिनों बिजली गुल होने से जीवन रक्षक उपकरणों पर इलाज करा रहे दो मरीजों की मौत के मामले में शासन ने सख्ती बरतते हुए अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) का तबादला प्रयागराज कर दिया है। उनके अलावा...

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में रायबरेली के जिला अस्पताल में बीते दिनों बिजली गुल होने से जीवन रक्षक उपकरणों पर इलाज करा रहे दो मरीजों की मौत के मामले में शासन ने सख्ती बरतते हुए अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) का तबादला प्रयागराज कर दिया है। उनके अलावा कई अन्य डॉक्टरों के भी अलग अलग जगहों पर तबादले हुए है। जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डा वीरेंद्र सिंह ने शुक्रवार को बताया कि जिला अस्पताल की सीएमएस नीता साहू के खिलाफ कई आरोपों के कारण शासन ने उनका तबादला प्रयागराज कर दिया है। गौरतलब है कि यह मामला बीते मंगलवार का है, जब बेतहाशा बारिश होने से अस्पताल की बिजली गुल हो गयी थी, जिससे अस्पताल में भर्ती दो मरीजो की तबीयत अचानक बिगड़ने के बाद उनकी मौत हो गयी।

मरीजों के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर उनके मरीजो को ऑक्सीजन न मिलने की वजह से मौत का जिम्मेदार ठहराया है। अगले दिन यह मामला जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव के संज्ञान में आने पर उन्होंने इसकी जांच सिटी मजिस्ट्रेट तथा सीएमओ को सौंप दी।  साहू को फिलहाल प्रयागराज में परामर्शदाता के पद पर स्थानांतरित कर दिया गया है। सीएमओ के अनुसार सीएमएस के खिलाफ लापरवाही, हठधर्मिता और चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन सहित अन्य मामले पहले से विचाराधीन थे। शासन ने सीएमएस के तबादले के साथ ही जिला अस्पताल में काफी समय से जमे कई डॉक्टरों का तबादला कर दिया है। जिसमे डा अल्ताफ, डा बीरबल, डा जेके लाल आदि शामिल हैं।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!