आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव: कल अखिलेश के गढ़ में लगभग 18 लाख 36 हजार मतदाता डालेंगे वोट, जानिए इस सीट का चुनावी इतिहास

Edited By Imran, Updated: 22 Jun, 2022 05:01 PM

tomorrow about 18 lakh voters will cast their votes in akhilesh s stronghold

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ पर सीट पर 23 जून को उप चुनाव होने हैं। सपा का गढ़ माने जाने वाली आजमगढ़ सीट से अखिलेश यादव ने अपने चचेरे भाई धर्मेन्द्र यादव को मैदान में उतारा है।

आजमगढ़: उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ पर सीट पर 23 जून को उप चुनाव होने हैं। सपा का गढ़ माने जाने वाली आजमगढ़ सीट से अखिलेश यादव ने अपने चचेरे भाई धर्मेन्द्र यादव को मैदान में उतारा है। वही, भाजपा ने फिर से दिनेश लाल यादव निहुआ को मैदान में उतारा है। इस सीट पर बसपा भी अपना दांव खेलने के लिए गूड्डू जमाली को टिकट दिया है। बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने जहां इस सीट पर कब्‍जा करने के ल‍िए अपनी पूरी ताकत झोंक दी हैं वहीं अख‍िलेश यादव ने यहां चुनाव प्रचार तक नहीं क‍िया। वहीं, इस सीट से कुल लगभग 18,3600 मतदाता अपने मत को प्रयोग करेंगे।
PunjabKesari
जानिए क्यों हो रहा है उपचुनाव
आजमगढ़ सीट 2019 में अखिलेश यादव ने ही जीती थी। इनसे पहले 2014 में यहां से मुलायम सिंह यादव सांसद थे। बीते 2022 के विधानसभा चुनाव में मैनपुरी के करहल से जीतने के बाद अखिलेश यादव ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था। यहा लोकसभा सीट खाली होने की वजह से फिर से उपचुनाव कराएं जा रहे है। 

एक नजर 2019 लोकसभा चुनाव के नतीजों पर
PunjabKesari
बता दें कि आजमगढ़ सीट पर 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में सपा से अखिलेश यादव ने भाजपा के दिनेश लाल यादव को करारी हार दिए थे। इस चुनाव में अखिलेश यादव को 6,21,578 वोट मिले तो निरहुआ को 3,61,704 वोट मिले। वही, एसबीएसपी    से अभिमन्यु सिंह सनी को 10078 वोट मिले थे। 

लोकसभा 2014 के चुनाव पर एक नजर
PunjabKesari
अब एक नजर पिछले लोकसभा चुनाव के नतीजों पर डालें तो साल 2014 में इस सीट पर सपा के मुलायम सिंह यादव ने 3 लाख 40 हजार 306 वोटों के साथ जीत हासिल की थी। वहीं बीजेपी के रामाकांत यादव 2 लाख 77 हजार 102 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे थे, जबकि बसपा के शाह आलम तीसरे स्थान पर रहे थे और उन्हे 2 लाख 66 हजार 528 वोट मिले थे।

लोकसभा 2009 के चुनाव पर एक नजर
PunjabKesari
साल 2009 में हुए लोकसभा चुनाव पर नजर डालें तो बीजेपी के रामाकांत यादव ने 2 लाख 47 हजार 648 वोटों के साथ जीत हासिल की थी। वहीं बसपा के अकबर अहमद 1 लाख 98 हजार 609  वोट के साथ दूसरे स्थान पर रहे थे जबकि सपा के दुर्गा प्रसाद यादव को 1 लाख 23 हजार 844 वोट मिले थे और वो तीसरे स्थान पर रहे थे।

लोकसभा 2004 के चुनाव पर एक नजर
PunjabKesari
2004 में हुए लोकसभा चुनाव पर नजर डालें तो बसपा के रामाकांत यादव ने इस सीट पर कब्जा जमाया था और उन्हे 2 लाख 58 हजार 216 वोट मिले थे। वहीं सपा के दुर्गा प्रसाद यादव को 2 लाख 51 हजार 248 वोट मिले थे और वो दूसरे स्थान पर रहे थे जबकि कांग्रेस के राम नरेश यादव 97 हजार 185 वोट के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे।

Related Story

Trending Topics

Ireland

India

13/1

2.4

India are 13 for 1 with 17.2 overs left

RR 5.42
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!