Kanpur Tax Raid: मशीनों से नोट गिनते-गिनते थक गए अधिकारी, बुलाने पड़े मजदूर... अब तक 291 करोड़ बरामद

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 27 Dec, 2021 02:16 PM

kanpur tax raid officers tired of counting notes with machines

कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी के दौरान अब तक 291 करोड़ रुपए की संपत्ति मिली है। अन्य ठिकानों पर छापेमारी जारी है। इस बीच रविवार देर रात को टैक्स चोरी के आरोप में पीयूष जैन को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कानपुर: कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी के दौरान अब तक 291 करोड़ रुपए की संपत्ति मिली है। अन्य ठिकानों पर छापेमारी जारी है। इस बीच रविवार देर रात को टैक्स चोरी के आरोप में पीयूष जैन को गिरफ्तार कर लिया गया है। सूत्रों के मुताबिक, रेड में सबसे बड़ी रकम पीयूष जैन के बेडरूम में दीवार के अंदर से मिली है। इसके अलावा सीढ़ियों के अंदर बने होल से भी कुछ रुपये मिले। यहां दीवारों को तोड़ने के लिए करीब 10 मजदूर लगाए गए। ये लोग गैस वेल्डिंग कटर और छेनी-हथौड़ों से दीवारों और लॉकरों को तोड़ने में जुट रहे। दरवाजों को खोलने के लिए डुप्लीकेट चाबी बनाने के लिए पांच कारीगरों को लगाया गया है। 
PunjabKesari
इस बारे में कानपुर में जीएसटी के संयुक्त आयुक्त सुरेंद्र कुमार ने बताया कि पीयूष जैन को गिरफ्तार करके आगे की कार्यवाही के लिए कानपुर से अहमदाबाद ले जाया जा सकता है। वहीं एक अन्य अधिकारी ने नाम प्रकाशित न करने की शर्त पर बताया कि पीयूष जैन के विभिन्न ठिकानों पर गुरुवार से ही चल रही रेड के दौरान सोने और चांदी समेत कुल 257 करोड़ रुपये की संपत्ति बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि बरामद रकम कथित रूप से एक माल ट्रांसपोर्टर द्वारा नकली चालान और बिना ई-वे बिल के माल भेजने से जुड़ी है। 
PunjabKesari
बताया जा रहा है कि पीयूष जैन के कन्नौज स्थित घर पर जीएसटी इंटेलिजेंस, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) और आयकर विभाग के संयुक्त छापे में करीब 110 करोड़ रुपये नकद और 250 किलो चांदी तथा 25 किलो सोना मिला है। इस संयुक्त रेड को ऑपरेशन बिग बाजार नाम दिया गया है। 
PunjabKesari
सूत्रों के मुताबिक, रेड में सबसे बड़ी रकम पीयूष जैन के बेडरूम में दीवार के अंदर से मिली है। इसके अलावा सीढ़ियों के अंदर बने होल से भी कुछ रुपये मिले। यहां दीवारों को तोड़ने के लिए करीब 10 मजदूर लगाए गए। ये लोग गैस वेल्डिंग कटर और छेनी-हथौड़ों से दीवारों और लॉकरों को तोड़ने में जुट रहे। दरवाजों को खोलने के लिए डुप्लीकेट चाबी बनाने के लिए पांच कारीगरों को लगाया गया है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!