इलाज के अभाव में बच्ची की मौत: MLA केतकी सिंह ने तहसीलदार को धमकाने के बाद अब चिकित्सकों को फटकारा, वीडियो आया सामने

Edited By Mamta Yadav, Updated: 30 Apr, 2022 09:51 AM

after threatening mla ketki singh tehsildar now doctors reprimanded

बलिया जिले में एक अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाने को लेकर तहसीलदार के साथ दुर्व्यवहार और तहसील में आग लगाने की धमकी देने वालीं बांसडीह विधानसभा क्षेत्र की विधायक केतकी सिंह का एक नया वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर प्रसारित हुआ।

बलिया: बलिया जिले में एक अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाने को लेकर तहसीलदार के साथ दुर्व्यवहार और तहसील में आग लगाने की धमकी देने वालीं बांसडीह विधानसभा क्षेत्र की विधायक केतकी सिंह का एक नया वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर प्रसारित हुआ।

वीडियो में वह एक नौ वर्षीया बालिका की कथित रूप से उपचार के अभाव में मौत को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और चिकित्सकों को फटकार लगाते दिखाई दे रही हैं। उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद) की नेता केतकी सिंह ने हाल के विधानसभा चुनाव में भाजपा के सिंबल से बांसडीह से चुनाव जीता। लेकिन सरकारी अधिकारियों के प्रति उनके रुख ने राज्य के विपक्षी दल समाजवादी पार्टी को आक्रामक होने का मौका दे दिया है।

केतकी सिंह के बांसडीह विधानसभा क्षेत्र में रेवती थाना क्षेत्र के हंडिया कला ग्राम की रहने वाली रुचि (9) को गत 25 अप्रैल को घर में किसी विषैले जंतु ने डस लिया। बच्ची के दाहिने पैर की दूसरी अंगुली से खून निकलता देख उसके पिता लालजी गुप्ता उसे तत्काल मोटरसाइकिल से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, रेवती पहुंचे। गुप्ता ने पत्रकारों को बताया कि सरकारी अस्पताल के इमरजेंसी में तैनात डा. राहुल कुमार ने बच्ची का पैर धुलवाया और कहीं सर्पदंश का चिह्न नहीं दिखाई देने पर रात 7.40 बजे जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया। इस दौरान उन्होंने कोई उपचार नहीं किया। लालजी ने बताया कि वह मोटरसाइकिल से बच्ची को लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। केतकी सिंह के निजी सचिव अजीत कुमार मिश्र ने बताया कि विधायक ने उपचार के अभाव में बच्ची की मौत के मामले को गंभीरता से लिया।

उन्होंने गत 27 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, रेवती पहुंच कर लापरवाह चिकित्सकों को फटकार लगाई तथा मौके पर मौजूद प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी को मामले की जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। शुक्रवार को सोशल मीडिया पर प्रसारित वीडियो में विधायक चिकित्सकों को फटकार लगाते हुए दिखाई दे रही हैं। इस दौरान एक चिकित्सक सफाई देते हुए बता रहे हैं कि जब तक पुष्टि न हो जाए तब तक एंटी स्नेक वेनम इंजेक्शन नहीं लगाया जा सकता, लेकिन विधायक इस जवाब से संतुष्ट नहीं हुईं। केतकी सिंह ने सोशल मीडिया पर वीडियो प्रसारित होने के बाद शुक्रवार को संवाददाताओं को सफाई दी। इस मामले में सर्विलांस अधिकारी डॉ. अभिषेक कुमार ने जानकारी दी कि इस पूरे मामले की मुख्य चिकित्सा अधिकारी स्वयं जांच कर रहे हैं।

इसके पहले विधायक ने सहतवार इलाके के उधा गांव में सरकारी जमीन पर अवैध रूप से किए गए ‘नये निर्माण' को ढहाने पर एक सरकारी अधिकारी को धमकी दी थी। इस वीडियो पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, ‘‘बलिया के सहतवार थाना क्षेत्र में सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने पहुंचे तहसीलदार को भाजपा विधायक केतकी सिंह के लोगों ने रोक दिया। सत्ता की हनक में अवैध निर्माण के संरक्षण का यह पहला उदाहरण नहीं है।''

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!