सावन में चलाया गया वृक्षारोपण अभियान, हिंडन नदी के तट पर लगाए गए 1 हजार पेड़

Edited By Deepender Thakur,Updated: 18 Jul, 2022 07:08 PM

plantation drive by mahakal maharaj bikaner sewa mandir trust

महाकाल महाराज बीकानेर सेवा मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष और प्रबंध न्यासी डॉ गौरव मित्तल ने पुराणों व हिन्दू धर्मग्रंथों में उल्लेखित पर्यावरण ज्ञान जैसे भविष्य पुराण के अनुसार..

टीम डिजिटल। सावन मास की शुरुआत के अवसर पर, महाकाल महाराज बीकानेर सेवा मंदिर ट्रस्ट ने अपने मिशन DiViNiTi ग्रीन के तहत अपने सीएसआर पार्टनर एसजीएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर छत घाट, इंदिरा कुंज, हिंडन नदी का तट, गाजियाबाद में पीपल, नीम और बेल के 1000 से अधिक पौधे लगाने के लिए एक बड़ा वृक्षारोपण अभियान चलाया।  इस आयोजन में SGS, ITCONS और DiViNiTi स्कूल के 50 से अधिक लोगों ने भाग लिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एसजीएस इंडिया के श्री मनुज सहगल निर्देशक लीगल तथा श्रीमती शोभना शर्मा - निदेशक ऑपरेशनल इंटेग्रिटी के साथ- साथ साहिबाबाद विधायक सुनील शर्मा थे। 

महाकाल महाराज बीकानेर सेवा मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष और प्रबंध न्यासी डॉ गौरव मित्तल ने पुराणों व हिन्दू धर्मग्रंथों में उल्लेखित पर्यावरण ज्ञान जैसे भविष्य पुराण के अनुसार जो व्यक्ति पीपल अथवा नीम अथवा बरगद का एक, अथवा बिल्व अथवा ऑंवले के तीन और आम के पांच पेड़ लगाता है, वह सब पापों से मुक्त हो जाता है,  पौधारोपण करने वाले व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है, पीपल का पेड़ लगाने से संतान लाभ होता है, बिल्वपत्र का वृक्ष लगाने से व्यक्ति दीर्घायु होता है, वट वृक्ष लगाने से मोक्ष मिलता है इत्तिदि ज्ञान दिया और ये भी बताया जो कोई इन वृक्षों के पौधों का रोपण करेगा, उनकी देखभाल करेगा उसे नरक के दर्शन नही करना पड़ेंगे।

विधायक सुनील शर्मा ने कहा की इस सीख का अनुसरण न करने के कारण हमें आज इस परिस्थिति के स्वरूप में नरक के दर्शन हो रहे हैं। अभी भी कुछ बिगड़ा नही है, हम अभी भी अपनी गलती सुधार सकते हैं। हम अपने संगठित प्रयासों से ही अपने "भारत" को नैसर्गिक आपदा से बचा सकते है। पाण्डेय जी उर्फ प्रकृति रूपा भाई ने कहा कि भविष्य में भरपूर मात्रा में नैसर्गिक ऑक्सीजन मिले इसके लिए आज से ही अभियान आरंभ करने की आवश्यकता है।

एसजीएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के श्री मनुज सहगल तथा श्रीमती शोभना शर्मा ने कहा की आगामी वर्षों में प्रत्येक ५०० मीटर के अंतर पर यदि एक एक पीपल, बड़, नीम आदि का वृक्षारोपण किया जाएगा, तभी अपना भारत देश प्रदूषण मुक्त होगा। घरों में तुलसी के पौधे लगाना होंगे। श्री मनुज सहगल ने कहा कि एसजीएस इंडिया अपने मिशन ग्रीन में महाकाल महाराज बीकानेर सेवा मंदिर का समर्थन करने का प्रयास करता रहेगा।

वृक्षारोपण अभियान में DiViNiTi School वसुंधरा के बच्चों ने भी भाग लिया। दिविनिति कार्यक्रम प्रमुख सरिता शुक्ला, दिविनिति विद्यालय की प्रधान मोनिका शर्मा, प्राचार्य सीमा उपाध्याय ने अन्य महिला शिक्षकों के साथ बच्चों को मानव जीवन में पौधों का सार बताया। वृक्षारोपण अभियान के माध्यम से बच्चों को पौधों और मानव के अस्तित्व में इसकी आवश्यकता के बारे में जागरूक करने के साथ-साथ, कॉर्पोरेट जगत को प्रकृति के प्रति उनकी जिम्मेदारियों के बारे में शिक्षित करना था। 

डॉ गौरव मित्तल  ने  एसजीएस इंडिया को इसके विभिन्न प्रयासों और मिशन ग्रीन का समर्थन करने के लिए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर महाकाल महाराज बीकानेर सेवा मंदिर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष, मानव संसाधन सतीश कुमार, महाप्रबंधक वित्त सुनील कुमार; सुबोध रंजन सचदेवा निदेशक सीमक फोटोवोल्टिक प्राइवेट लिमिटेड, मनोज गुप्ता महाप्रबंधक वित्त इंडो गल्फ क्रॉप साइंस उपस्थित रहे।

Related Story

Trending Topics

IPL
Chennai Super Kings

176/4

18.4

Royal Challengers Bangalore

173/6

20.0

Chennai Super Kings win by 6 wickets

RR 9.57
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!