मायावती बोलीं- बुलडोजर कार्रवाई से हो सकता है सांप्रदायिक सछ्वाव को नुकसान

Edited By Tamanna Bhardwaj, Updated: 21 Apr, 2022 11:05 AM

mayawati said  bulldozer action can harm communal harmony

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में अतिक्रमण ध्वस्त करने की कारर्वाई के प्रति नाराजगी का इजहार करते हुए बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने धर्म को भी इसके लिए इस्तेमाल करने से सांप्रदायिक...

लखनऊ: दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में अतिक्रमण ध्वस्त करने की कार्रवाई के प्रति नाराजगी का इजहार करते हुए बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने धर्म को भी इसके लिए इस्तेमाल करने से सांप्रदायिक सछ्वाव को नुकसान होगा, जिसका फायदा देश विरोधी ताकतों को होगा। मायावती ने गुरूवार को सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि सरकार को उन अधिकारियों के खिलाफ भी सख्ती बरतनी चाहिए जिनके भ्रष्टाचार में अवैध निर्माण हो रहे हैं। दंगे और हिंसा पर कारर्वाई के नाम पर बुलडोजर चलाए जाने से गरीब लोग भी पिस रहे हैं।

उन्होंने कहा ‘‘ दिल्ली के जहांगीरपुरी सहित देश के अन्य राज्यों में भी अवैध निर्माण की आड़ में जो बुलडोजर चलाए जा रहे हैं जिसमें गरीब लोग भी प्रभावित हो रहे हैं, जबकि सरकार को उन अधिकारियों के विरुद्ध भी सख्ती करनी चाहिए जिनके भ्रष्टाचार की वजह से ही अवैध निर्माण हो रहे हैं। बसपा प्रमुख ने कहा ‘‘ देश में जहां भी दंगे व हिंसा होती है तो वहां कार्रवाई के नाम पर तुरन्त बुलडोजर चलाया जाए, जिसमें गरीब लोग भी पिस रहे हैं, यह उचित नहीं, बल्कि जो मूल दोषी हैं तो उनके विरुद्ध ही सख्त कानूनी कारर्वाई होनी चाहिए।''

उन्होंने कहा ‘‘साथ ही, धर्म को भी इसके लिए इस्तेमाल करना, तो इससे देश में आपसी सछ्वाव खत्म होगा तथा इसका देश विरोधी ताकतें भी गलत फायदा उठा सकती हैं। इस मामले में भी सरकारों को जरूर सोचना चाहिए। बीएसपी की यह सलाह।'' गौरतलब है कि दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) ने बुधवार को अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया था। हालांकि उच्चतम न्यायालय के यथास्थिति बनाये रखने के आदेश के बाद अभियान रोक दिया गया था। जहांगीरपुरी क्षेत्र में 16 अप्रैल को हनुमान जयंती पर आयोजित शोभायात्रा के दौरान दो गुटों के बीच हिंसक झड़पें हुई थीं। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!