लापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, परिजनों ने नर्स पर कराया मामला दर्ज

  • लापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, परिजनों ने नर्स पर कराया मामला दर्ज
You Are Here
लापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, परिजनों ने नर्स पर कराया मामला दर्जलापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, परिजनों ने नर्स पर कराया मामला दर्जलापरवाही की भेंट चढ़ा नवजात, परिजनों ने नर्स पर कराया मामला दर्ज

चंदौलीः चाहे प्रदेश सरकार स्वास्थ विभाग को दुरुस्त करने के लाख दावे कर ले फिर भी आए दिन डॉक्टरों की लापरवाहियां उजागर हो रही हैं। ताजा मामला चंदौली का है।जहां परिजनों का आरोप है कि बच्चे की मौत की वजह नर्स की लापरवाही है। वहीं गुस्साए परिजनों ने पुलिस थाने में नर्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है।

जानकारी के मुताबिक धानापुर क्षेत्र का है, जहां के रहने वाले गोबिंद की पत्नी सुनीता को प्रसव पीड़ा होने पर उसे एम्बुलेंस में बैठा कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। परिजनों ने बताया कि स्टाफ नर्स पश्मीना ने यह आश्वासन दिया गया कि सब कुछ ठीक है आराम से सामान्य प्रसव कर लिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

परिजनों का कहना है कि प्रसव प्रक्रिया के दौरान वहां मौजूद नर्स ने बच्चे की गर्दन बाहर आते ही उसे पकड़कर बेरहमी से बाहर खींच दिया। इससे बच्चे की चमड़ी कई जगह से बुरी तरह छिल गई, जिससे बच्चे की मौत हो गई। दूसरी तरफ स्टाफ नर्स का कहना कि बच्चा पत्नी के पेट में ही मर गया था। पत्नी की जान बचाने के लिए हमें बच्चे को इस तरह से निकालना पड़ा। ऐसा ना करते तो बच्चे की मां मर सकती थी।

इस लापरवाही से गुस्साए परिजनों ने शव के साथ थाने में पहुंचकर आरोपियों के खिलाफ थाने मामला दर्ज कराया है। इस दौरान परिजनों ने थानाध्यक्ष ए.के सिंह पर भी आरोपियों के साथ मिले होने और एफआईआर बदलने का आरोप लगाया। हालांकि थानाध्यक्ष ने इस आरोप को झूठा करार दिया है। वहीं मुख्यचिकित्सा अधिकारी पी.के मिश्रा ने कहा है कि मामले की जांच की जाएगी जो भी दोषी पाया गया उसपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!