Subscribe Now!

हज सब्सिडी खत्म होने पर बोले आजम- देश का खजाना हाजियों की वजह से लुट रहा था

  • हज सब्सिडी खत्म होने पर बोले आजम- देश का खजाना हाजियों की वजह से लुट रहा था
You Are Here
हज सब्सिडी खत्म होने पर बोले आजम- देश का खजाना हाजियों की वजह से लुट रहा थाहज सब्सिडी खत्म होने पर बोले आजम- देश का खजाना हाजियों की वजह से लुट रहा थाहज सब्सिडी खत्म होने पर बोले आजम- देश का खजाना हाजियों की वजह से लुट रहा था

लखनऊः केंद्र की मोदी सरकार ने हज यात्रा पर मिलने वाली सब्सिडी को खत्म करने का बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले पर सपा पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि देश का खजाना सिर्फ हाजियों की वजह से ही लुटा जा रहा था। इतना ही नहीं उन्होंने इसे वोट की राजनीति करार दिया। 

आगे आजम ने कहा कि यह फैसला देर से लिया गया है। जो देश के खजाने का नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई उन हाजियों से होनी चाहिए, जो हज कर चुके हैं।आजम खान ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि, 'देश का खजाना सिर्फ हाजियों की वजह से ही लुटा जा रहा था, चाहे जो हो जाए मोदी जी को वोट मिलना चाहिए। अंत में आजम ने कहा हमें कोई शिकायत नहीं है, बहुत अच्छा कदम है। इसका स्वागत करना चाहिए।'

बता दें कि अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने ऐलान किया है कि इस बार हज जाने वाले 1 लाख 75 हजार लोगों बिना सब्सिडी के हज जाएंगे। नकवी ने साथ ही बताया कि हज सब्सिडी से बचने वाली राशि सिर्फ और सिर्फ मुस्लिम लड़कियों की शिक्षा पर खर्च की जाएगी। उन्होंने कहा कि सब्सिडी हटाने से हज के लिए लगने वाली लागत पर कोई असर नहीं होगा।

अब्बास नकवी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि हर साल सरकार की तरफ से हज सब्सिडी के रूप में 700 करोड़ रुपए दी जाती थी।  पिछले साल जहां सवा लाख मुस्लिम हज पर गए थे,  वहीं इस बार 1.75 लाख जायरीन हज यात्रा पर मक्का जाएंगे।  यह संख्या आजाद भारत के इतिहास में सबसे अधिक है। आपको बता दें कि कि साल  2012 में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को हज सब्सिडी खत्म करने का आदेश देते हुए  कहा था कि सरकार को इसे  2022 तक पूरी तरह खत्म कर देना चाहिए। 



UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन