राहुल सक्सेना हत्या का खुलासा, सबूत मिटाने आए 3 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे

You Are Here
राहुल सक्सेना हत्या का खुलासा, सबूत मिटाने आए 3 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थेराहुल सक्सेना हत्या का खुलासा, सबूत मिटाने आए 3 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थेराहुल सक्सेना हत्या का खुलासा, सबूत मिटाने आए 3 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे

गाजियाबादः उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मंगलवार की रात मुठभेड़ हो गई। इस दौरान पुलिस ने 3 बदमाश शीलू, आकाश और विजेंदर को गिरफ्तार कर लिया। वहीं पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि पकड़े गए बदमाशों ने ही कारोबारी राहुल सक्सेना की हत्या की है। बदमाशों के पास मृतक राहुल का एटीएम और अन्य कागजात बरामद किए हैं।

पुलिस ने किया खुलासा 
पुलिस ने बताया कि मृतक राहुल सक्सेना का 7 मई को दिल्ली में उसके शोरुम से निकलने के बाद अपहरण कर लिया गया था। उसके बाद उसे मधुबन बापूधाम इलाके में ले जाकर गटर में उल्टा लटका दिया था। जिस से दम घुटने और फेफड़ों में गंदा पानी जाने से उसकी मौत हो गई थी। उसका शव 9 मई को पुलिस को सीवर में मिला था। हत्यारों ने पुलिस और परिवार को चकमा देने के लिए 20 लाख रुपए की डिमांड की थी।

सबूत मिटाने जा रहे थे आरोपी 
इसी दौरान बीती मंगलवार रात को पुलिस को बिना नंबर की एक इटियोस कार जाती दिखाई दी। जिसमें 3 युवक सवार थे और वह कविनगर में उस जगह जा रहे थे, जहां राहुल की हत्या हुई थी। इसी बीच पुलिस ने बिना नंबर की कार को रोका तो बदमाश घबरा गए और पुलिस पर हमला कर दिया। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की और बदमाशों को धर धबोच लिया। पुलिस को बदमाशों के पास से मृतक का एटीएम और अन्य कागज मिले। जिससे सारा राज खुल गया। पुलिस ने बताया कि वह हत्या का कोई सबुत मिटाने जा रहे थे, लेकिन  वह पकड़े गए।

लड़की के चक्कर में की हत्या
पुलिस ने खुलासा किया कि आरोपी शीलू जिस लड़की से प्यार करता था, वह लड़की मृतक राहुल से प्यार करने लगी थी। इसी वजह से आरोपी ने इस हत्या की वारदात को अंजाम दिया। इस वारदात में उसके 2 साथियों ने भी उसकी मदद की। फिलहाल पुलिस आरोपी के दुसरे साथियों की तलाश में कर रही है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!