इंसानियत हुई शर्मसार: सड़क पर तड़पता रहा मरीज, डॉक्टरों ने नहीं ली सुध

You Are Here
इंसानियत हुई शर्मसार: सड़क पर तड़पता रहा मरीज, डॉक्टरों ने नहीं ली सुधइंसानियत हुई शर्मसार: सड़क पर तड़पता रहा मरीज, डॉक्टरों ने नहीं ली सुधइंसानियत हुई शर्मसार: सड़क पर तड़पता रहा मरीज, डॉक्टरों ने नहीं ली सुध

आगरा(बृज भूषण): उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में इंसानियत को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। जहां पर एक मरीज शहर की लाइफ लाइन कहे जाने वाली एम जी रोड पर इलाज के तड़पता पड़ा दिखाई दिया। फिलहाल उसका इलाज कुछ समाजसेवी मिलकर करा रहे हैं और मरीज को सड़क के किनारे बने बस स्टॉप पर खुले में ही खून चढ़ाया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार संतोष नामक युवक हरीपर्वत क्षेत्र में सड़क किनारे झुग्गी में रहता है। वहीं खाना खिलाने के लिए अकसर आने वाले समाजसेवियों की नजर बीमार संतोष पर पड़ी तो उन्होंने एस ऍन अस्पताल के डॉक्टर से संपर्क किया। इस सूचना पर डॉक्टर आए तो सही लेकिन मरीज की हालात देखकर और उसका कोई परिजन नहीं है ये जानकर नगर निगम के अस्पताल में भर्ती कराने की बात कहकर चले गए। इस दौरान उन्होंने मरीज को चेक तक नहीं किया। इसके बाद मरीज की हालात देखकर कुछ समाजसेवियों ने उसका वहीं उसका इलाज शुरू कर दिया।

आपको बता दें कि समाजसेवी इलाज तो जरूर करा रहे हैं, लेकिन सड़क किनारे पड़े इस मरीज को लेकर जहां डॉक्टरों और शहरवासियों की सवेंदनहीनता सामने आई, वहीं योगी सरकार के भी हर गरीब को सुलभ और अच्छा इलाज देने के वायदे पर भी सवाल खड़े होते हैं।



UP HINDI NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!