विवाद के बीच ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे CM योगी

  • विवाद के बीच ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे CM योगी
You Are Here
विवाद के बीच ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे CM योगीविवाद के बीच ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे CM योगीविवाद के बीच ताजमहल का दीदार करने आगरा जाएंगे CM योगी

आगरा: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद के बीच 26 अक्टूबर को आगरा जा रहे हैं। इस दौरान योगी पर्यटन विभाग के एक कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। बताया जा रहा है कि सीएम बनने के बाद से योगी आदित्यनाथ पहली बार ताजमहल को देखने जाएंगे।

क्या कहा था बीजेपी विधायक संगीत सोम ने?
भाजपा विधायक संगीत सोम ने नया विवाद खड़ा करते हुए ताजमहल के इतिहास पर सवाल किया था। उन्होंने ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़ मरोड़कर पेश करते हुए कहा कि ताजमहल भारतीय संस्कृति पर धब्बा है और इसका निर्माण उस शहंशाह ने कराया था जिसने अपने पिता को जेल में बंद किया था और हिंदुओं को निशाना बनाया था।

AIMIM प्रमुख ने किया पलटवार
AIMIM प्रमुख ने पलटवार करते हुए सवाल किया कि क्या सरकार पर्यटकों से यह कहेगी कि वे ताजमहल देखने नहीं जाएं? औवेसी यह भी कहा कि केंद्र दिल्ली में विदेशी गणमान्य व्यक्तियों की मेजबानी के लिए जिस हैदराबाद हाउस का इस्तेमाल करता है उसका निर्माण भी ‘गद्दार’ द्वारा किया गया था। हैदराबाद हाउस का निर्माण आखिरी निजाम उस्मान अली खान ने अंग्रेजों द्वारा मुहैया कराई गई जमीन पर कराया था।

आज़म खान ने दिया विवादित बयान
ताजमहल को लकेर भाजपा के विधायक संगीत सोम और AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी के बाद अब आज़म खान ने विवादित बयान दिया है। सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे खान ने सिर्फ ताजमहल को ही नहीं बल्कि दिल्ली के लाल किला व कुतुबमीनार को भी गुलामी की निशानी बताया है। खान ने कहा कि हम लोगों को गुलामी की सभी निशानियों को नष्ट कर देना चाहिए जो हमें याद दिलाती हैं कि उन्होंने हमपर राज किया था। मैंने पहले भी कहा है कि हमें संसद, कुतुब मिनार, राष्ट्रपति भवन, लाल किला और आगरा का यह ताजमहल सब नष्ट कर देना चाहिए।



UP POLITICAL NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!