आगरा कॉलेज के एक्स प्रिंसिपल पर 5 लाख की चोरी का आरोप, मामला दर्ज

  • आगरा कॉलेज के एक्स प्रिंसिपल पर 5 लाख की चोरी का आरोप, मामला दर्ज
You Are Here
आगरा कॉलेज के एक्स प्रिंसिपल पर 5 लाख की चोरी का आरोप, मामला दर्जआगरा कॉलेज के एक्स प्रिंसिपल पर 5 लाख की चोरी का आरोप, मामला दर्जआगरा कॉलेज के एक्स प्रिंसिपल पर 5 लाख की चोरी का आरोप, मामला दर्ज

आगराः आगरा कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉ. मनोज रावत सहित 3 के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज हुआ है। यह मुकदमा कॉलेज के पूर्व प्राचार्य नरेंद्र सिंह की पत्‍नी शशि सिंह ने किया है। आरोप है कि डॉ. रावत ने साथियों के साथ घर में घुसकर यह वारदात की। बता दें, दोनों पूर्व प्राचार्यों में पहले से विवाद और राजनीति चल रही थी।

5 लाख नकदी के साथ जरुरी दस्‍तावेज चोरी
पूर्व प्राचार्य नरेंद्र सिंह की पत्‍नी शशि सिंह ने थाना हरीपर्वत में तहरीर दी। इसमें उन्‍होंने लिखा कि उनके पति नरेंद्र सिंह प्राचार्य पद को लेकर मुकदमे के सिलसिले में इलाहाबाद में हैं। वह कॉलेज के वूमेंस विंग के पास प्राचार्य आवास में रह रही हैं। उनका सामान राजामंडी चौराहे के पास स्थित शिक्षक आवास में है। गुरुवार की सुबह उन्‍हें घर में चोरी की जानकारी कर्मचारी ने दी। वहां जाने पर पता चला कि 5 लाख कैश और जरूरी दस्‍तावेज चोरी हो गए हैं। ये दस्‍तावेज अदालत में जमा करवाए जाने थे। तहरीर में चोरी का आरोप पूर्व प्राचार्य डॉ. मनोज रावत, डीपी शर्मा और आनंद पांडे पर लगाया गया है।

पहले से ही दोनों में चल रहा विवाद
बता दें, सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले के बाद पिछले साल यूपीपीएससी ने प्रदेश के 116 प्राचार्य की नियुक्ति निरस्त की थी। इसी दौरान डॉ. मनोज रावत को आगरा कॉलेज के प्राचार्य पद से हटा दिया गया था। सपा सरकार के दौरान नरेंद्र सिंह प्राचार्य बन गए, लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद 2 महीने पहले ही नरेंद्र सिंह को प्राचार्य पद से हटा दिया गया। उनकी जगह डॉ. एके गुप्ता को प्राचार्य बनाया गया है। इसे मुद्दे पर कॉलेज में राजनीति चरम पर है।

जानिए इस बारे में क्या कहना है प्रिंसिपल का
वहीं पूर्व प्राचार्य डॉ. मनोज रावत का कहना है कि पुराने विवाद और राजनीति के कारण वे आरोप लगाए गए हैं। उन्‍होंने कहा कि नरेंद्र सिंह ने दो आवासों पर कब्जा किया हुआ है। डीपी शर्मा ने उनके खिलाफ रिट दायर की थी। इसके बाद उन्हें प्राचार्य पद से हटाया गया था। हरीपर्वत इंस्पेक्टर का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा लिख लिया गया है, मामले की छानबीन की जा रही है।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !