जज को बंधक बनाने और उसके भाई को अगवा करने के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार

  • जज को बंधक बनाने और उसके भाई को अगवा करने के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार
You Are Here
जज को बंधक बनाने और उसके भाई को अगवा करने के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तारजज को बंधक बनाने और उसके भाई को अगवा करने के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तारजज को बंधक बनाने और उसके भाई को अगवा करने के आरोप में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार

बरेलीः उत्तर प्रदेश में बरेली के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कुसुमलता राठौर को घर में बंधक बनाकर उनके 5 साल के भाई को अगवा करने के आरोप में एक महिला पुलिस निरीक्षक और सिपाही को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट(सीजेएम) की तहरीर के मुताबिक 11 अक्टूबर की शाम उनके सरकारी आवास पर पुलिस इंस्पेक्टर अनुपम सिंह और कांस्टेबल लता शर्मा कार से पहुंची। आरोप है कि सीजेएम से दोनों ने हाथापाई की। गले में पहनी सोने की चेन तोड़कर छीनने की कोशिश की। वहीं सीजेएम के घर में काम करने वाली महिला जया (19) ने बचाव करना चाहा तो उससे मारपीट की। इंस्पेक्टर और कांस्टेबल ने नौकरानी का गला दबाकर मारने का प्रयास भी किया।

इतना ही नहीं जया को झूठे मुकदमे में फंसाने और जान से मारने की धमकी दी। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कोतवाली पुलिस ने लखनऊ जोन में तैनात महिला इंस्पेक्टर अनुपम सिंह और कांस्टेबल लता शर्मा को गिरफ्तार किया है। दोनों के खिलाफ संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया है।

बता दें पुलिस ने अदालत से उन्हें 25 अक्टूबर तक रिमांड पर लिया है। कल देर शाम अचानक तबीयत बिगडऩे पर दोनो को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगिन्दर सिंह ने बताया कि लखनऊ जोन में तैनात इंस्पेक्टर अनुपम सिंह और सिपाही लता के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 393, 452, 364, 323, 504,506 और 307 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की विवेचना की जा रही है। 
 



UP CRIME NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!