लापरवाही: जिला अस्पताल में सर्पदंश पीड़ित महिला का झाडफ़ूंक से हो रहा ईलाज

You Are Here
लापरवाही: जिला अस्पताल में सर्पदंश पीड़ित महिला का झाडफ़ूंक से हो रहा ईलाजलापरवाही: जिला अस्पताल में सर्पदंश पीड़ित महिला का झाडफ़ूंक से हो रहा ईलाजलापरवाही: जिला अस्पताल में सर्पदंश पीड़ित महिला का झाडफ़ूंक से हो रहा ईलाज

हाथरस(सूरज मौर्या): यूपी के सरकारी अस्पतालों ने लगता है कि गोरखपुर के लापरवाही भरे दर्दनाक हादसे से सबक नहीं लिया है। यही कारण है कि सरकारी अस्पतालों में लापरवाही का आलम थम नहीं रहा है।

ऐसा ही एक मामला यूपी के हाथरस जिले से सामने आया है। जहां जिला अस्पताल की इमरजेंसी वार्ड में सांप काटने से बेहोश हुई एक महिला मरीज का झाडफ़ूंक वाला बाबा इलाज कर रहा है। आप सोच रहे होंगे कि अस्पताल में यह सब तो डॉक्टर और स्टॉफ से आँख बचाकर हो सकता है। ऐसा नहीं है बाबा तो गांव शाहपुर खुर्द से सर्पदंश पीड़ित महिला मरीज लक्ष्मी के साथ ही एम्बुलेंस से आया और अस्पताल में डॉक्टर के साथ-साथ झाडफ़ूंक कर रहा है।

ऐसा लगता है कि मरीजों का सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों पर भरोसा ही नहीं है। इस नजारे को मीडिया के कैमरों में कैद होने पर डॉक्टर ने हालांकि बाबा को अस्पताल से बाहर का रास्ता दिखा दिया लेकिन जो कुछ दिखा उसे तो लापरवाही और मरीज की जान से खिलवाड़ ही कहा जाएगा। 

झाडफ़ूंक एलाउड नहीं-डॉक्टर
जब इस बारे में डॉक्टर डॉ नवनीत से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ऐसा एलाउड नहीं है। हमने उसे ऐसा करने से मना कर दिया। 

परिजनों ने झाडफ़ूंक के लिए कहा-बाबा सुखवीर 
वहीं झाडफ़ूंक वाले बाबा सुखवीर का कहना है कि हमसे पीड़िता के परिजनों ने झाडफ़ूंक करने के लिए कहा तो हमने कर दिया। मंत्र भी पूरा नहीं हुआ। डॉक्टर ने मना किया तो हमने बंद कर दिया। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!